खेल

भारतीय हॉकी टीम ऑस्ट्रेलिया से लगातार चौथी बार टेस्ट श्रृंखला में हारी

 

पर्थ। ऑस्ट्रेलिया के अहम दौरे पर भारतीय पुरुष हॉकी टीम का निराशाजनक प्रदर्शन जारी है जहां पांच मैचों की श्रृंखला के चौथे टेस्ट मैच में उसे 1-3 से हार का सामना करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने इस जीत के साथ ही श्रृंखला में अपनी बढ़त को 4-0 कर लिया। मैच का परिणाम भारतीयों के पक्ष में नहीं रहा लेकिन टीम के प्रदर्शन के स्तर में काफी सुधार दिखा। मेजबान टीम हालांकि हर मामले में भारत से बेहतर साबित हुई। आकाशीय बिजली के कारण 40 मिनट देर से शुरू हुए मैच में सभी चार गोल पेनल्टी कॉर्नर से आए। भारत ने 12वें मिनट में कप्तान हरमनप्रीत सिंह की बदौलत बढ़त बना ली, लेकिन जेरेमी हेवर्ड (19वें, 47वें) और जैक वेल्च (54वें) के गोल ने ऑस्ट्रेलिया को श्रृंखला में लगातार चौथी जीत दिला दी।

भारत शुरुआती टेस्ट में 1-5 से हार गया था, जबकि दूसरा और तीसरा टेस्ट क्रमशः 2-4 और 1-2 से हार गया था। मैच का शुरुआती क्वार्टर काफी प्रतिस्पर्धी रहा जहां दोनों टीमों ने एक दूसरे के खिलाफ गोल के कई मौके बनाये। मनदीप सिंह ने मैच पहले मिनट में ही भारत के लिए मौका बनाया। हरमनप्रीत सिंह के पास पर सर्कल के पास से किये गये उनके प्रहार को ऑस्ट्रेलिया के गोलकीपर ने बचा लिया। ऑस्ट्रेलिया ने जवाबी हमला करते हुए दूसरे मिनट में लगातार दो पेनल्टी कॉर्नर हासिल किए, लेकिन अनुभवी भारत के गोलकीपर पीआर श्रीजेश के शानदार बचाव से उनका दोनों प्रयास विफल हो गया।

भारतीय खिलाड़ियों ने इस मैच में मिडफील्ड का चतुराई से उपयोग कर गोल करने के मौके बनाये। भारत को 10वें मिनट में पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन जुगराज सिंह मौके को भुनाने में नाकाम रहे। इसके एक मिनट बाद, ऑस्ट्रेलिया को तीसरा और चौथा पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन भारतीयों ने मजबूती से बचाव किया। भारत ने 12वें मिनट में हरमनप्रीत के गोल से बढ़त बना ली। भारतीय कप्तान ने टीम के दूसरे पेनल्टी कॉर्नर पर गोलकीपर के बायीं ओर से जोरदार फ्लिक से गोल किया। एक गोल से पिछड़ने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे क्वार्टर में जोरदार वापसी की।

मैच के 19नें मिनट में हेवर्ड ने टीम को पांचवें पेनल्टी कॉर्नर पर बढ़त दिला दी। इसके तुरंत बाद भारत के पास बढ़त बनाने का मौका था लेकिन राजकुमार पाल का रिवर्स हिट गोलपोस्ट से टकराकर दूर चला गया। ऑस्ट्रेलिया ने इसके कुछ समय के बाद छठा पेनल्टी कॉर्नर हासिल किया लेकिन रिजर्व गोलकीपर सूरज करकेरा ने कमाल का बचाव किया। शुरुआती हाफ में मुकाबला बराबरी का रहा लेकिन मध्यांतर के बाद ऑस्ट्रेलिया ने मैच पर दबदबा बनाना शुरू कर दिया। भारत ने भी इस दौरान तीसरे क्वार्टर में ऑस्ट्रेलिया को माकूल जवाब दिया। आखिरी क्वार्टर में ऑस्ट्रेलिया ने लगातार दो पेनल्टी कॉर्नर हासिल किये इसमें से हेवर्ड ने दूसरे प्रयास को गोल को बदल की टीम को बढ़त दिला दी।

हेवर्ड के तेज प्रहार को कृष्ण बहादुर की जगह टीम में शामिल हुए करकेरा रोकने में विफल रहे। बढ़त हासिल करने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने और आक्रामक खेल शुरू किया। इस दौरान अगले छह मिनट में टीम ने तीन और पेनल्टी कॉर्नर हासिल किये। वेल्च ने 54वें मिनट में गोल कर ऑस्ट्रेलिया की बढ़त को 3-1 कर दिया। भारत ने भी आखिरी चार मिनट में तीन पेनल्टी कॉर्नर हासिल किया लेकिन टीम ने सभी मौकों को जाया कर दिया। श्रृंखला का आखिरी टेस्ट शनिवार को खेला जायेगा।



Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button