खबरें

डी राजा की पत्नी एनी या राहुल गांधी में से कौन अधिक धनी है?

 

वायनाड: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केरल की वायनाड लोकसभा सीट से बुधवार को नामांकन फाइल कर दिया। राहुल गांधी के खिलाफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) की एनी राजा चुनाव लड़ रही है। एनी ने भी बुधवार को नामांकन दाखिल किया। सीपीआई की नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन वुमेन की महासचिव और पार्टी के महासचिव डी राजा की पत्नी एनी राजा और राहुल गांधी के मैदान में उतरने से मुकाबला रोचक हो गया है।

राहुल गांधी ने दी संपत्ति की जानकारी

नामांकन के दौरान राहुल गांधी और एनी राजा ने हलफनामे में अपनी संपत्ति की जानकारी दी है। हलफनामे के अनुसार, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शेयर बाजार में 4.3 करोड़ का निवेश किया है। 3.81 करोड़ का म्यूचुअल फंड जमा है और बैंक खाते में 26.25 लाख रुपये है। हलफनामे से पता चलता है कि वित्तीय वर्ष 2022-23 के दौरान राहुल गांधी के पास 55000 नकद और कुल आय एक करोड़ 27 लाख 8 हजार 680 रुपये है।

5 साल में इतना बढ़ गई राहुल की संपत्ति

हलफनामे से पता चलता है कि राहुल गांधी की चल संपत्ति का पांच वर्षों में 59 प्रतिशत बढ़ गया है। 2019 में राहुल गांधी की चल संपत्ति 5.8 करोड़ थी जबकि नवीनतम हलफनामे में चल संपत्ति का 9.24 करोड़ दिखाई गई है। कांग्रेस नेता के 15.2 लाख के सोने के बांड भी हैं। उन्होंने राष्ट्रीय बचत योजनाओं, डाक बचत, बीमा पॉलिसियों और अन्य स्थानों पर भी 61.52 लाख का निवेश किया है। बताया गया कि उन पर लगभग 49.7 लाख की देनदारी भी है। राहुल गांधी ने दिल्ली के महरौली में प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ संयुक्त रूप से स्वामित्व वाली कृषि भूमि, साथ ही गुरुग्राम में कार्यालय स्थान की भी घोषणा की है, जिसकी कीमत 11 करोड़ है।

एनी राजा की संपत्ति

एनी राजा की कुल संपत्ति करीब 72 लाख (71,68, 750)  रुपये है। एनी राजा के पास केवल 10,000 नकद है। जबकि 62,000 की राशि बैंक में जमा है। इसके साथ ही 25,000 के आभूषण और 71 लाख की विरासत में मिली संपत्ति की घोषणा की है।

राहुल गांधी के सामने एनी राजा और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष

वायनाड में राहुल गांधी एनी राजा और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। राहुल गांधी ने 2019 में वायनाड सीट से चार लाख से ज्यादा वोटों के अंतर से प्रचंड जीत दर्ज की थी। चुनाव आयोग की अधिसूचना के अनुसार, चरण में 26 अप्रैल को केरल के सभी 20 संसदीय क्षेत्रों में मतदान होगा, जिसके लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि 4 अप्रैल है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button