उत्तराखण्ड

पार्टी के सत्ता में आने पर मुख्यमंत्री बनूंगा या फिर घर बैठ जाऊँगा,तीसरा कोई विकल्प नहीं: हरीश रावत

देहरादून: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री हरीश रावत का बड़ा बयान सामने आया है। मतदान के ठीक अगले दिन उन्होंने कहा, पार्टी के सत्ता में आने पर या तो वह मुख्यमंत्री बनेंगे या फिर घर बैठ जाएंगे। तीसरा कोई विकल्प ही नहीं है।

वेब मीडिया में दिए एक इंटरव्यू में हरीश रावत ने कहा कि अब उनकी उम्र ऐसी नहीं रह गई है कि वह कुछ और सोचें। वह अपनी सोच के अनुसार नया उत्तराखंड बनाना चाहते हैं, इसलिए वह किसी भी बात पर समझौता नहीं कर सकते हैं। हरीश रावत या तो मुख्यमंत्री हो सकता है या घर बैठ जाए। वहीं दूसरी तरफ एएनआई को दिए एक इंटरव्यू में हरीश रावत ने कहा कि मुख्यमंत्री कौन बनेगा, यह हाईकमान तय करेगा। जो भी निर्णय होगा, उन्हें स्वीकार होगा।

उन्होंने कहा कि पार्टी 45 से 48 सीटें जीत रही है। जिसका श्रेय उन्होंने राहुल गांधी को दिया। उधर, इस मुद्दे पर प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया। उनका कहना है कि पहले मतदान का रिजल्ट तो आ जाए, मुख्यमंत्री कौन बनेगा, यह बाद की बात है। इस विषय में वह अभी से कुछ नहीं कहना चाहते हैं।

Related Articles

Back to top button