Switch to:
ईमानदारी की मिसाल बने छात्र उजैर को व्यापार मंडल ने किया सम्मानित, कोतवाल ने दिया प्रशस्ति पत्र

Share this story

imandari

ज्वालापुर: आज के इस महौल में ईमानदारी की मिशाल बने छात्र जुबैर को जहां रानीपुर व्यापार मंडल ने सम्मानित किया वहीं कोतवाल ने प्रशस्ति पत्र देने के साथ पुरस्कृत कर उसे शाबाशी दी। जुबैर ने सड़क पर मिले डाई लाख रुपये लौटाकर ईमानदारी की आज के युग में बहुत बड़ी मिशाल पेश की है।

मामले के मुताबिक राजकीय इंटर कॉलेज भेल के 11वीं के छात्र उजैर निवासी मोहल्ला नील खुदाना ज्वालापुर को स्कूल से आते समय बाउंड्री गेट के पास स्कूटी सवार का बैग मिला। जिसमें ढाई लाख रुपये थे। उजैर ने फोन पर बात करते जा रहे बैग स्वामी का साइकिल से पीछा कर उसको रुपयों से भरा उसका बैग वापस कर ईमानदारी का परिचय दिया था।

प्रधानाचार्य सुनीत कुमार के नेतृत्व में स्कूल के समस्त अध्यापकों व छात्र/छात्राओं ने भी उजैर को उसकी ईमानदारी के लिए सम्मानित किया था। रानीपुर कोतवाल के नेतृत्व में रानीपुर कोतवाली के समस्त पुलिसकर्मियों और शिवालिक नगर व्यापार मंडल के अध्यक्ष धर्मेंद्र बिश्नोई ने संयुक्त रूप से उजैर को पुरस्कार व नकद धनराशि सम्मानित किया।

इस अवसर पर उनके साथ रानीपुर कोतवाली के वरिष्ठ उपनिरीक्षक विकास रावत आदि मौजूद रहे। प्रभारी निरीक्षक रानीपुर कुंदन सिंह राणा ने बताया की छात्र ने ईमानदारी का परिचय देते हुए अनुकरणीय मिसाल पेश की है।