केदारनाथ मंदिर के कपाट 29 अप्रैल को खुलेंगे, बदरीनाथ धाम के कपाट 15 मई को खुलेंगे

Share this story

केदारनाथ मंदिर के कपाट 29 अप्रैल को खुलेंगे, बदरीनाथ धाम के कपाट 15 मई को खुलेंगे

उत्तराखंड में केदारनाथ और बद्रीनाथ के कपाट के लिए नई तारीख का ऐलान कर दिया गया है. केदारनाथ मंदिर के कपाट 29 अप्रैल को खुलेंगे तो वहीं बद्रीनाथ के कपाट 15 मई को खुलेंगे. इसके साथ ही रुद्रप्रयाग जिला मजिस्ट्रेट ने भी नई तारीख कारण करते हुए सिर्फ मंदिर में 16 लोगों को जाने की इजाजत दी है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रुद्रप्रयाग जिला मजिस्ट्रेट मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि केदारनाथ मंदिर के मुख्य पुजारी सहित केवल 16 लोग ही उपस्थित हो सकते हैं।

चगाई समिति के सदस्य लक्ष्मीप्रसाद भट्ट ने कहा कि केदारनाथ के कपाट खुलने की परंपरा और पूजा पद्धति बदरीनाथ से भिन्न है। यहां रावल के प्रतिनिधि के रूप में मुख्य पुजारी पूजा करते हैं। इसके बाद देवस्थानम बोर्ड के अधिकारी बीडी सिंह ने घोषणा की कपाट खुलने की तिथि में किसी प्रकार का बदलाव नहीं किया जा रहा है। कपाट पूर्व घोषित तिथि 29 अप्रैल को सुबह 6.10 बजे ही खोले जाएंगे। उधर, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि पंचगाई समिति व तीर्थ पुरोहितों से कपाट खुलने की तिथि बदलने का अनुरोध किया गया था।

लेकिन, उनका कहना था कि इससे पंच केदार श्रृंखला के अन्य मंदिरों के कपाट खुलने की तिथियां भी बदलनी पड़ेंगी। लिहाजा, सरकार ने भी 29 अप्रैल को ही कपाट खोले जाने पर सहमति दे दी है। बता दें कि सोमवार को शासन में हुई बैठक के बाद बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि 30 अप्रैल से बढ़ाकर 15 मई किए जाने की घोषणा की गई थी। साथ ही केदारनाथ के कपाट खोलने की संभावित तिथि 14 मई बताई गई थी।

जब 29 अप्रैल को मंदिर के कपाट खुलेंगे, मंदिर में अब भक्तों के लिए दर्शन की अनुमति नहीं होगी. जानकारी के लिए बता दें कि कोरोनावायरस के चलते पूरे देश में लॉक डाउन है और इसी को देखते हुए मंदिर मस्जिद सभी जगहों पर बंद कर दिया गया है. इस दौरान यह पहला मौका नहीं है. इससे पहले भी दो बार केदारनाथ और बद्रीनाथ के कपाट खुलने की तारीख को बदल दिया गया है।

वहीं बीते मंगलवार को उखीमठ में केदारनाथ मंदिर समिति के अधिकारियों की बैठक हुई जिसमें फैसला लिया गया कि अब केदारनाथ मंदिर के कपाट 29 अप्रैल को खोले जाएंगे बैठक में ऊंची मठ में मौजूद रावल नहीं आए जिसके बाद यह फैसला समिति की तरफ से लिया गया है वहीं 15 मई को बद्रीनाथ के कपाट भी खोल दिए जाएंगे।