आप नेता कर्नल कोठियाल को निर्वाचन आयोग ने किया नोटिस जारी

 
aap

-चुनाव आचार सहिंता उल्लघंन का आरोप

देहरादून: निर्वाचन आयोग ने आचार सहिंता के उल्लघंन के आरोप में आम आदमी पार्टी के नेता और मुख्यमंत्री उम्मीदवार कर्नल अजय कोठियाल को नोटिस जारी किया है। कर्नल कोठियाल पर आचार सहिंता के दौरान शॉल भेंट करने के आरोप के चलते यह नोटिस जरी हुआ हैI वहीं कोठियाल का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसको लेकर रिटर्निंग ऑफिसर सीएस चौहान ने कहा कि इस संबंध में भी उन्हें नोटिस जारी किया जाएगा। इससे पूर्व भाजपा व कांग्रेस पार्टी के नेताओं को भी निर्वाचन आयोग ने नोटिस जरी किये हैं।

निर्वाचन आयोग ने आप पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार अजय कोठियाल को जारी नोटिस में आचार सहिंता के दौरान शॉल भेंट करने का आरोप लगाया है। इसके अलावा सोशल मीडिया पर कर्नल कोठियाल का एक और वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें वह डुंडा विकासखंड के कुलेथ गांव में बच्चों को खिलौना पिस्तोल बांटते नजर आ रहे हैं। निर्वाचन आयोग का कहना है कि उक्त वीडियो के संबंध में भी कोठियाल को नोटिस जारी किया जाएगा।

रिटर्निंग ऑफिसर सीएस चौहान ने कहा कि आचार सहिंता के दौरान शॉल बांटने के आरोप में कर्नल (सेनि.) अजय कोठियाल को नोटिस जारी किया गया है। उनका एक और वीडियो प्राप्त हुआ है। उक्त वीडियो के संबंध में भी नोटिस जारी किया जाएगा।

इससे पूर्व रिटर्निंग ऑफिसर ने कांग्रेस नेता विजयपाल सजवाण, जगमोहन रावत व भाजपा नेता शांति गोपाल रावत को आचार सहिंंता के उल्लघंन के आरोप में नोटिस जारी किया था। वहीं आदर्श आचार संहिता और कोविड गाइडलाइन के उल्लंघन के मामले में कैबिनेट मंत्री डा. धन सिंह रावत और भाजपा के जिलाध्यक्ष रघुवीर बिष्ट सहित 11 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है, जिसमें 188 आईपीसी की धारा 144 उल्लंघन के तहत मामला दर्ज किया गया है।

विधानसभा चुनाव को लेकर गठित उड़नदस्ता टीम के प्रभारी कमल भारती की तहरीर पर पुलिस ने यह कार्रवाई की है। इस मामले में बृहस्पतिवार को जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से भी शिकायत दर्ज की गई थी। बृहस्पतिवार को भाजपा जिला कार्यालय ग्वीलों गोपेश्वर में जिलाध्यक्ष की अध्यक्षता में कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जिसमें कैबिनेट मंत्री डा. धनसिंह रावत ने सुझाव पत्र पेटी का शुभारंभ किया।

कांग्रेस का आरोप था कि इस दौरान भाजपा के मंडल अध्यक्षों और कार्यकर्ताओं को बुलाया गया था, जिसके बाद कार्यकर्ताओं की बैठक भी ली गई, जिसे कांग्रेस ने आचार संहिता के तहत लागू धारा 144 और कोविड-19 के तहत प्रदेश में किसी भी प्रकार की बैठकों, रैलियों और सभाओं पर लगे प्रतिबंध का उल्लंघन बताया था। कांग्रेस की ओर से भाजपा के कार्यक्रम की फोटो और वीडियो भी सोशल मीडिया पर सार्वजनिक किए गए हैं। शुक्रवार को इस मामले में उड़न दस्ता टीम की तहरीर पर गोपेश्वर थाने में कैबिनेट मंत्री डा. धनसिंह रावत, भाजपा जिलाध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट सहित 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

इस मामले में बदरीनाथ विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफिसर की ओर से बृहस्पतिवार को ही भाजपा जिलाध्यक्ष को इस मामले में नोटिस जारी किया गया है। इसमें लिखा है कि भाजपा कार्यालय में बिना अनुमति के पांच से अधिक लोग एकत्रित हुए और नारेबाजी व बैठक की, जो धारा 144 और आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। नोटिस में उन्हें 24 घंटे के अंदर अपना पक्ष रखने के लिए उपस्थित होने के लिए कहा है।

एसएसटी टीम उड़नदस्ता टीम के प्रभारी की ओर से मामले में तहरीर दी गई है, इसके आधार पर धारा 144 के उलंघन के मामले में मामला दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही हैI