Switch to:
दिल्ली मार्ग पर अब अपनी मर्जी से ढाबों पर बस नहीं रोक पाएंगे चालक

Share this story

road..

देहरादून:  दिल्ली मार्ग पर रोडवेज बसों के यात्रियों के लिए खानपान के ठहराव रोडवेज मुख्यालय की ओर से तय कर दिए गए हैं। चालक और परिचालकों को चेतावनी दी गई है कि यदि निर्धारित ठहराव के बजाय दूसरी जगह बस रोकी गई तो उनके विरुद्ध कार्रवाई होगी।

लंबी दूरी के मार्गों पर चालक-परिचालक कई दफा अपनी मर्जी के अनुसार बस ऐसे ढाबों पर रोकते हैं, जहां यात्रियों से जमकर लूट-खसोट होती है। चालक व परिचालकों को ऐसे ढाबा संचालक कमीशन देकर चुप करा देते हैं और मुसीबत यात्रियों को झेलनी पड़ती है।

दिल्ली मार्ग पर इसकी सर्वाधिक शिकायत है। पिछले साल कोरोना के चलते रोडवेज मुख्यालय बसों के ठहराव तय नहीं कर पाया था, लेकिन अब शुक्रवार को यह तय कर दिए गए।

रोडवेज के महाप्रबंधक दीपक जैन की ओर से जारी आदेश में अब ग्रामीण, पर्वतीय व रुड़की डिपो की दिल्ली से आने वाली साधारण बसें दीपमाला ढाबे पर रुकेंगी। हरिद्वार और श्रीनगर डिपो की दिल्ली से आने वाली साधारण बसें एवन प्लाजा टूरिस्ट ढाबा पर रुकेंगी।

ऋषिकेश व श्रीनगर डिपो की दिल्ली की ओर से जाने वाली बसें क्लालिटी कैफे में ठहराव करेंगी। ग्रामीण, पर्वतीय, हरिद्वार व ऋषिकेश समेत कोटद्वार डिपो की दिल्ली से दून, हरिद्वार व ऋषिकेश आने वाली वाल्वो और एसी बसें फारच्यून ग्रैंड यूनिट आफ बेन टेक्नोलाजिस में रुकेंगी। वहीं, दून, हरिद्वार व ऋषिकेश से दिल्ली जाने वाली वाल्वो और एसी बसें बिकानो फूड कोर्ट रामपुर तिराहा पर ठहराव करेंगी।

सभी डिपो एजीएम को आदेश दिया गया है कि लगातार अनुबंधित ढाबे का औचक निरीक्षण किया जाए। शौचालय व पेयजल की मुफ्त सुविधा होनी चाहिए। चालक और परिचालकों को हिदायत दी गई है कि इनके अतिरिक्त दूसरे ढाबे पर बस न रोकें। इसमें साधारण बसों को सिर्फ यह रियायत दी गई है कि वाल्वो और एसी बसों के ठहराव को छोड़कर उपरोक्त अनुबंधित ढाबे में से किसी पर भी चालक बस ले जा सकते हैं।