उत्तराखण्ड

उत्तराखण्ड पुलिस के जवानों को प्रधानमंत्री जीवन रक्षा पुलिस पदक से किया जायेगा सम्मानित

देहरादून: उत्तराखण्ड पुलिस के जवानों ने बढ़ाया प्रदेश का मान। ड्यूटी के दौरान अदम्य साहस दिखाने और अपनी जान पर खेलकर 06 जिंदगियों को बचाने के लिए कांस्टेबल फैजान अली और कांस्टेबल राजेश कुंवर को प्रधानमंत्री जीवन रक्षा पुलिस पदक से सम्मानित किया जाएगा।

05 जुलाई 2019 की रात्रि देहरादून के रायपुर थाना क्षेत्र के दशमेश विहार कालोनी में विक्रांत के घर पर कार में आग लगने की जानकारी मिली थी। आग लगने की जानकारी पर चीता मोबाईल ड्यूटी में नियुक्त कांस्टेबल फैजान अली और कांस्टेबल राजेश कुंवर तत्काल मौके पर पहुंचे। घर पहुंचने पर पता चला कि अल्टो कार में भीषण आग लगी है और आग की लपटे इतनी तेज थी की घर के अंदर और बाहर धुएं से कुछ नजर नहीं आ रहा था। कार की लपटों ने पास ही खड़ी स्कूटी को अपनी चपेट में ले लिया था। जिसमें घर के अन्दर धुंआ भर गया था। घर के अन्दर विक्रांत कुमार उनकी पत्नी, उनके दो बच्चे और बुजुर्ग माता-पिता फंसे थे। कांस्टेबल फैजान और राजेश ने जान की परवाह किए बिना तुरंत ही अपने मुंह पर गीला कपड़ा बांधा और बहुत धुआं होने के बावजूद किसी तरह घर पर फंसे व्यक्तियों के पास पहुंचे। रोते चिल्लाते पीड़ितों को ढांढस बंधाते हुए हौसला रखने को कहा। वही तत्काल दम घुटने के कारण घबरा रहे छोटे बच्चों, महिला और अन्य व्यक्तियों को सीढ़ी लगाकर एक-एक करके छत से नीचे उतारना शुरू किया। इसी दौरान मौके पर पहुंची फायर पुलिस ने आग को बुझाना शुरू किया। दोनों कांस्टेबलों की सूझबूझ से छह लोगों की जिंदगी सकुशल बच गई। इस साहसिक कार्य के लिए कांस्टेबल फैजान अली और राजेश कुंवर को प्रधानमंत्री जीवन रक्षा पुलिस पदक दिए जाने की घोषणा की गई है।

Related Articles

Back to top button