गौतमबुध नगर में कोरोना वायरस को धारा 144 लागू है

Share this story

गौतमबुध नगर में कोरोना वायरस को धारा 144 लागू है

नोएडा : एक तरफ कोरोना वायरस के कारण देशभर में खौफ का माहौल है। वहीं गौतम बुध नगर में धारा 144 लागू होने के बाद वीरान हो चुकी हैं गौतम बुध नगर की सड़कें। अगर हम बात करें ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क की जो कि यह कॉलेज हब कहां जाता है। कोरोना वायरस को लेकर गलत सूचना फैलाने पर भी होगी कार्रवाई

देश विदेश के लाखों छात्र वहां पर हर रोज पढ़ने जाते थे। लेकिन आज की स्थिति की बात की जाए तो वहां की सड़कों पर सन्नाटा छाया हुआ है। कोरोना वायरस के डर से लोगो ने निकलना बंद कर दिया है। जिस कॉलेज क्षेत्र में पहले रौनक रहती थी वहीं क्षेत्र अब वीरान दिख रहा है। कोरोना का खौंफ इतना बढ़ चुका है कि लोगों ने अब घर से भी निकलना बंद कर दिया है। हालांकि प्रशासन अलर्ट जिले में धारा 144 लागू है कॉलेज स्कूल संस्थान 2 अप्रैल तक बंद करने के आदेश है।

गौतम बुध नगर में अगर कोई नागरिक विदेश आता है तो पहले वह सूचना विभाग  स्वास्थ्य विभाग को जानकारी देगा। स्वास्थ्य विभाग के जांच के बाद ही अनुमति होगी कि वह आखिर रहने योग्य है या नहीं इसलिए प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है और स्वास्थ्य विभाग भी हर तरह से कोरोना से निपटने के लिए तैयार है।प्रशासन पूरी तरह से बाहर से आए हुए व्यक्ति पर नजर बनाए हुए हैं। कि कोई अगर बाहरी  व्यक्ति आता है तो उसके संक्रमित होने से कोई और व्यक्ति संक्रमित ना हो जाए।हालांकि अभी तक नोएडा में कोरोना वायरस के 4 केंस सामने आ चुके हैं।

साथ ही यूपी पुलिस ने यह भी चेतावनी गई है कि जो लोग विदेश यात्रा की सूचना पुलिस को नही देंगे। उनके खिलाफ सख्त करवाई की जाएगी। वही, कोरोना वायरस को लेकर गलत सूचना फैलाने पर भी कार्रवाई की जाएगी। आपको बता दे कि इसको लेकर गौतम बुद्ध नगर के पुलिस आयुक्त ने एडवाइजरी जारी कर दी है।

इन आवश्यक सूचनाओं का खुलासा करने तथा अधिसूचित निगरानी, निरीक्षण, जांच, शारीरिक जांच, संगरोध, अलगाव और ऐसे संदिग्ध व्यक्तियों के उपचार तथा अस्थाई बंध, सीलिंग, निकासी, सेनिटाईजेशन परिसर की सफाई आदि और किसी भी व्यक्ति के साथ सहयोग करने या सहयता देने से मना करना या संदिग्ध व्यक्ति या परिसर से संबंधित निगरानी कर्मियो के निर्देशों का पालन नहीं करने पर दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत पारित आदेश के उल्लंघन करने पर धारा 270 के तहत दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।