MS Dhoni को फिर मिलेगा BCCI का सालाना कॉन्ट्रैक्ट, बस पूरी करनी होगी ये शर्त

Share this story

MS Dhoni को फिर मिलेगा BCCI का सालाना कॉन्ट्रैक्ट, बस पूरी करनी होगी ये शर्त

MS Dhoni BCCI Contract: भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धौनी को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ ने सालाना कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया है। अक्टूबर 2019 से सितंबर 2020 तक के लिए बीसीसीआइ ने जिन 27 खिलाड़ियों के साथ सालाना अनुबंध किया है, उसमें धौनी का नाम शामिल नहीं है, लेकिन कुछ शर्तें अगर एमएस धौनी पूरा करते हैं तो उनको फिर से एनुअल कॉन्ट्रैक्ट मिल जाएगा।

साल 2018-19 के सेंट्रल कॉन्‍ट्रैक्‍ट में एमएस धौनी ग्रेड ए में शामिल थे, जिसमें खिलाड़ियों को 5 करोड़ रुपये सालाना बोर्ड की ओर से मिलते है, लेकिन इस बार वे किसी भी कैटेगरी में शामिल नहीं हैं। धौनी को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर किए जाने की सच्चाई ये है कि धौनी बीसीसीआइ की शर्तों पर खरे नहीं उतरे। दरअसल, एमएस धौनी पिछले 6 महीने से एक भी मैच नहीं खेले हैं और बीसीसीआइ किसी भी ऐसे खिलाड़ी को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल नहीं करती, जिसने कॉन्ट्रैक्ट सीजन में एक भी मैच नहीं खेला हो।

बीसीसीआइ ने ये बात स्पष्ट कर दी है कि नियमों के आधार पर धौनी को सालाना अनुबंध से बाहर किया है, जिसकी सूचना उन्हें पहले ही दे दी गई थी। हालांकि, आगे अगर धौनी क्रिकेट में वापसी करते हैं और लगातार खेलते हैं तो उन्‍हें कॉन्‍ट्रैक्‍ट में फिर से जगह मिल जाएगी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के मौजूदा नियम के तहत उसी खिलाड़ी को केंद्रीय अनुबंध में शामिल किया जाता है जिसने कम से कम तीन टेस्ट या आठ वनडे खेले हों। इसके अलावा इसमें टी20 मैच खेलना भी शामिल है जो साल में होने वाले मैचों पर निर्भर करता है।