मां की अंतिम इच्छा पूरी किए बिना ही दुनिया को अलविदा कह गए इरफान, पढ़े इरफान की जिंदगी के कुछ दिलचस्प किस्से

Share this story

मां की अंतिम इच्छा पूरी किए बिना ही दुनिया को अलविदा कह गए इरफान, पढ़े इरफान की जिंदगी के कुछ दिलचस्प किस्से

अपनी अदाकारी से हर किसी के दिल पर राज करने वाले फिल्म अभिनेता इरफान खान का बुधवार को निधन हो गया। मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में इरफान खान ने 54 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। इरफान काफी लंबे वक्त से बीमार थे और बीते दिनों ही उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। साल 2018 में ही उन्होंने दुनिया को कैंसर के बारे में जानकारी दी थी, लेकिन दो साल बाद ये जिंदगी से जारी इस जंग को इरफान हार गए। दिग्गज कलाकार के जाने से बॉलीवुड में शोक का माहौल है। अस्पताल के बयान के मुताबिक, इरफान खान पेट की समस्या से जूझ रहे थे, उन्हें कोलन इंफेक्शन हुआ था। फिल्म डायरेक्टर शूजीत सरकार ने इरफान खान के निधन की जानकारी सबसे पहले दी, उसके बाद अस्पताल की ओर से बयान जारी किया गया।

95 वर्षीय मां की अंतिम आरजू रही अधूरी

अभिनेता इरफान खान की मां शाइदा बेगम का फाइल फोटो

इरफान की मां सईदा बेगम का बीते शनिवार को जयपुर में इंतकाल हुआ था। लॉकडाउन के चलते इरफान अपनी मां के इंतकाल के बावजूद मुंबई से जयपुर नहीं आ सके लेकिन मां अंतिम सांस तक अपने लाडले की सलामती की दुआएं मांगती रही। इरफान के भाई सलमान ने बताया कि 95 साल की मां की अंतिम इच्छा थी कि इरफान भाई जल्द से जल्द स्वस्थ हो कर घर लौटें। बता दें कि इरफान ने शनिवार को मुंबई में रहते हुए वीडियो कॉल के जरिए ही अपनी मां के अंतिम दर्शन किए थे। इरफान खान के निधन के बाद अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, परेश रावल समेत बॉलीवुड के दिग्गजों ने श्रद्धांजलि दी। वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत अन्य नेताओं ने भी उन्हें नमन किया।

इरफान की थी क्रिकेटर बनने की तमन्ना

इरफान को स्कूल जाना पसंद नहीं था और क्रिकेट की प्रैक्टिस करना अच्छा लगता था। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इरफान खान क्रिकेट में इतने अच्छे थे कि उनका चयन सीके नायडू ट्रॉफी के लिए लगभग हो गया था। लेकिन पैसों की तंगी और परिवारवालों की बेरुखी के चलते उनका क्रिकेटर बनने का सपना अधूरा रह गया था।

बोलती आंखों वाला वो सुपरस्टार जिसने बॉलीवुड ही नहीं हॉलीवुड में भी मचाई धूम

बॉलीवुड के टैलेंटेड अभिनाताओं में शामिल इरफान खान के यूं अचानक चले जाने से उनके फैंस और बॉलीवुड सेलेब्स सदमे में हैं। दो साल पहले मार्च 2018 में इरफान को न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर नामक बीमारी का पता चला था। विदेश में इस बीमारी का इलाज कराकर इरफान खान ठीक हो गए थे। भारत लौटने के बाद इरफान खान ने अंग्रेजी मीडियम में काम किया था। किसे पता था ये फिल्म इरफान की जिंदगी की आखिरी फिल्म साबित होगी।

इरफान के पिता कहते थे, पठान के परिवार में पैदा हुआ ब्राह्राण, जानें वजह

इरफान खान ने अपनी करियर की शुरुआत टेलिविजन से की थी, जिसके बाद वह फिल्मों में आए। हासिल, हैदर, अंग्रेजी मीडियम, हिन्दी मीडियम, पान सिंह तोमर ना जाने कितनी ऐसी फिल्में हैं, जिनमें इरफान खान ने दमदार काम किया। साल 1998 में फिल्म सलाम बॉम्बे से करियर शुरू करने वाले इस एक्टर के बारे में किसी ने नहीं सोचा था कि वो हॉलीवुड तक को अपनी एक्टिंग का दीवाना बना देगा। हॉलीवुड में उन्होंने माइटी हार्ट और जुरासिक पार्क जैसी ऐतिहासिक फिल्मों में काम किया।

बॉलीवुड सहित पूरे देश में शौक की लहर, प्रधानमंत्री मोदी सहित कई बड़ी हस्तियों ने  ट्विट कर जताया शोक 

अमिताभ बच्चन 

 

 

 

शिल्पा सेट्ठी कुंद्रा

 

शूटर दादी प्रकाशी 

प्रसिद्ध उद्योगपति आनंद महिंद्रा 

 

ज़ी न्यूज़ के संपादक सुधीर चौधरी 

फ़िल्म अभिनेता रणदीप हुड्डा 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह