गुड न्यूज: दिल्ली के जमाती अब बचा रहे कोरोना संक्रमितों की जान

Share this story

गुड न्यूज: दिल्ली के जमाती अब बचा रहे कोरोना संक्रमितों की जान

सत्य वॉयस डेस्क

दिल्ली के जमातियों को लेकर फैल रही तमाम नकरात्मक खबरों के बीच दिल्ली से एक सकरात्मक खबर सामने आ रही है। दरअसल, अभी कुछ दिन पहले जिन तब्लीगी जमातियों को कोरोना फैलाने के लिए जिम्मेदार माना जा रहा था। अब वहीं इस वायरस से संक्रमित मरीजों की जान बचाने के लिए आगे आ रहे हैं। बता दें कि कोरोना इलाज के लिए प्लाज्मा थैरेपी  काफी मददगार साबित हो रही है।

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य से मिली जानकारी के मुताबिक, राजधानी में करीब 1000 से अधिक जमाती से जुड़े कोरोना के मरीज मिले थे। इसमें से 200 से ज्यादा संक्रमित मरीज ठीक भी हो चुके है, जिसके बाद अब ये सभी प्लाज्मा थैरेपी के प्लाज्मा दान कर रहे हैं। दरअसल, रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने फिर एक बार प्लाज्मा डोनेट का महत्व बताया। इसके साथ ही उन्होंने आपसी सौहार्द बनाने की बात कहते हुये ये भी कहा कि हिंदू का प्लाज्मा मुस्लिम और मुस्लिम का प्लाज्मा हिंदू की जान बचा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा था कि यह संभव है कि एक मुस्लिम प्लाज्मा एक हिंदू रोगी के जीवन को बचा सकता है या हिंदू का प्लाज्मा मुस्लिम व्यक्ति के जीवन को बचा सकता है। भगवान ने मनुष्यों के बीच भेदभाव नहीं किया। हमने अपने बीच एक दीवार क्यों बनाई है। कोरोनावायरस सभी को प्रभावित करता है – हिंदू हो या मुसलमान। हम साथ काम करेंगे, तो हमें कोई नहीं हरा सकेगा। लेकिन,  अगर हम लड़ते रहेंगे तो फिर कोई उम्मीद नहीं रहेगी। इसके बाद तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना मोहम्मद साद कंधावली ने कोरोना संक्रमण से स्वस्थ हो चुके मुस्लिम और जमाती कार्यकर्ताओं से अपना ब्लड प्लाजमा दान करने की अपील की थी, ताकि उन लोगों को फायदा हो सके जो इस बीमारी से संक्रमित हैं, और जिनका इलाज चल रहा है, जिसके बाद दिल्ली में तबलीगी जमात के लोग खून देने के लिए राजी हो गये हैं।