उत्तराखण्ड

यमुनोत्री मार्ग बस दुर्घटना के कारणों को जानने के लिए, केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने भेजा जांच दल

देहरादून: यमुनोत्री मार्ग पर डामटा में यात्रियों की बस दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने हादसे की जांच के लिए तीन सदस्यीय दल का गठन किया है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के साथ सेफ्टी ऑडिट को लेकर सेव लाइफ फाउंडेशन के जांच दल को दुर्घटना स्थल पर भेजा दिया है।

प्रमुख सचिव लोनिवि आरके सुधांशु ने जानकारी देते हुए बताया है कि जांच दल मंगलवार को उत्तरकाशी पहुंच गया है। वहीं मंत्रालय की ओर से राज्य के मुख्य सचिव डॉ.एसएस संधु को एक पत्र भेजकर दल को जरूरी संसाधन उपलब्ध कराने के साथ सहयोग करने का कहा गया है।

प्रमुख सचिव ने बताया कि जांच दल मौके पर पहुंचकर सेफ्टी ऑडिट से संबंधित रिपोर्ट तैयार कर राज्य और केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय को सौंपेगा ताकि भविष्य में इस तरह की घटनाओं से बचने के लिए जरूरी उपाय किए जा सकेंगे।

इससे पूर्व यमुनोत्री हाईवे पर हुई बस दुर्घटना की मजिस्ट्रीयल जांच शुरू हो गई है। हादसे का कारण स्टेयरिंग लॉक होना बताया गया था। दुर्घटना की जांच कर रही एसडीएम बड़कोट, शालिनी नेगी ने बताया कि पालीगाड में घटना से जुड़े चार लोगों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं।

रविवार को यमुनोत्री नेशनल हाईवे-123 पर मध्यप्रदेश के यात्रियों से भरी बस दुर्घटना ग्रस्त हो गई थी, जिसमें 26 यात्रियों की दर्दनाक मौत हो गई थीI जिसको लेकर केन्द्रीय सड़क परिवहन एवंम राजमार्ग मंत्रालय ने संज्ञान लेते ऐसे हादसों पर अंकुश लगाने के लिए जाँच दल नियुक्त कर हादसे की विस्तृत रिपोर्ट तैयार करने का निर्णय लिया हैI 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button