AD
उत्तराखण्डस्वास्थ्य

सुराज सेवा दल ने दून अस्पताल में अव्यवस्थाओं को लेकर दिया धरना, अस्पताल प्रशाशन पर लगाए गंभीर आरोप

देहरादून: सुराज सेवा दल के कार्यकर्ताओं ने दून अस्पताल प्रशाशन पर गंभीर आरोप लगते हुए सोमवार को अस्पताल के बहार धरने पर बैठेI उनका आरोप है कि दून अस्पताल में मरीजों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता हैI दूर दूर से इलाज कराने के लिए आए मरीजों को अस्पताल के स्टाफ द्वारा प्रताड़ित किया जाता हैI डोक्टरों पर आरोप लगया कि अपने निजि क्लीनिकों के चलते उनके पास मरीजों को देखने का समय नहीं हैI


सुराज सेवा दल के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ, महानगर महासचिव मेहरबान अली की अगुवाई में सुराज सेवा दल ने दून अस्पताल के बाहर धरना दियाI मेहरबान ने कहा कि दून अस्पताल पूरी तरह भ्रष्टाचार में संलिप्त हैI वहाँ गरीब मरीजों का उपचार नहीं किया जाताI गंदगी चरम सीमा पर है, चारों तरफ बदबू ही बदबू है| मेहरबान ने बताया कि जो मरीज भर्ती होता है वह दूरदराज पहाड़ी क्षेत्रों से सही उपचार के लिए आता है, लेकिन दून अस्पताल सरकारी अस्पताल होने के बावजूद मरीजों से सारी दवाइयाँ बाहर से मंगवाई जाती हैं, जब मरीज के पास जो थोड़े बहुत पैसे होते हैं, वह खत्म हो जाते हैं| तब उन्हें डरा धमका कर गुमराह कर कोरोनेशन अस्पताल रेफर कर दिया जाता है!

मेहरबान ने आरोप लगाया कि दून अस्पताल के डाक्टरों ने अपने क्लीनिक खोल रखे हैं, उनके पास सही उपचार के लिए समय नहीं है, मरीजों से व्यवहार ऐसा करते हैं जैसे वह अपराधी हो, हड्डियों के ऑपरेशन के लिए उन्होंने दलाल बैठा रखे हैं ,अगर मरीज पैसे देगा तो उपचार मिलेगा अन्यथा जवाब मिलेगा बैड नहीं है!

सुराज सेवा दल की रायपुर विधानसभा से विधानसभा अध्यक्ष( महिला प्रकोष्ठ) मोहनी चौधरी ने कहा कि आयुष्मान कार्ड मात्र जुमलेबाजी है, उस पर केवल पहुंच वालों का इलाज संभव है, बिना पहुंच वालों को मात्र समय की बर्बादी है! सुराज सेवा दल की रायपुर से वार्ड अध्यक्ष मोनिका ने कहा कि एम्स में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की दो लाइनें लगी है, उत्तर प्रदेश आयुष्मान कार्ड लाइन में तेजी से काम होता है, जबकि उत्तराखंड की खिड़की में काम ही नहीं होता, सभी लोग पैसे इकट्ठे कर अपना घर भरने में लगे हैं, यह प्रदेश के लोगों का शोषण है, जिसे सुराज सेवा दल कतई बर्दाश्त नहीं करेगा|

इस दौरान सुराज सेवा दल के कार्यकर्ताओं ने दून अस्पताल के डिप्टी सी.एम.एस. डॉक्टर खत्री को ज्ञापन देकर एक सप्ताह के भीतर व्यवस्थाओं को दुरस्त करने का समय दीया है| अन्यथा बड़े आन्दोलन की चेतावनी दी है| वहीं सी.एम.एस. डॉक्टर खत्री ने भी दून अस्पताल की सारी कमीयों को दूर करने का आश्वासन दिया|

इस मौके पर सुराज सेवा दल के राजेंद्र पन्त, मेहरबान, मोहिनी, मोनिका,प्रकाश, अंजू ,बबीता, पूनम, पदमा, सुनीता, संजय, राधे, उज्जवल, सुंदर, कुर्बान, जैनुल, शबाना,शालू, जानकी, अल्पना, उषा, ललित, नीतू ,उमेश, लक्ष्मण, गिरिश, लक्ष्मण, ललित आदि सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे|

Show More

Related Articles

Back to top button