साउथ अफ्रीका ने तीसरे मैच में भारत को 7 विकेट से हराया, सीरीज पर 2-1 से किया कब्जा (लीड-1)

केपटाउन, 14 जनवरी (आईएएनएस)। कीगन पीटरसन (82) शानदार पारी की वजह से यहां न्यूलैंड्स में शुक्रवार को सीरीज के निर्णायक तीसरे टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को सात विकेट से हरा दिया।
 
साउथ अफ्रीका ने तीसरे मैच में भारत को 7 विकेट से हराया, सीरीज पर 2-1 से किया कब्जा (लीड-1)
केपटाउन, 14 जनवरी (आईएएनएस)। कीगन पीटरसन (82) शानदार पारी की वजह से यहां न्यूलैंड्स में शुक्रवार को सीरीज के निर्णायक तीसरे टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को सात विकेट से हरा दिया।

पीटरसन के आउट होने के बाद, रस्सी वैन डेर डूसन और टेम्बा बावुमा ने मिलकर 212 रनों का पीछा करने के लिए 105 गेंदों में 57 रनों की नाबाद साझेदारी की, जिसके बाद सीरीज में 0-1 से पीछे चल रहे साउथ अफ्रीका ने दो बार 200 से ज्यादा रनों का पीछा करते हुए 2-1 सीरीज पर कब्जा कर लिया।

लंच के बाद दूसरे सत्र में साउथ अफ्रीका को 41 रन जीतने के लिए चाहिए थे, जिसके बाद 171/3 से आगे खेलते हुए साउथ अफ्रीका ने शानदार खेल जारी रखा। डूसन और बावुमा ने भारतीय गेंदबाजों का जमकर सामना किया। दोनों ने तेज गति से रन बटोरते हुए महज 40 मिनटों में ही 41 रन बनाकर मैच को अपने नाम कर लिया।

इस बीच, डूसन (41) और बावुमा (32) रन बनाकर नाबाद रहे। दोनों ने मिलकर 105 गेंदों में 57 रनों की साझेदारी की, जिससे साउथ अफ्रीका ने 63.3 ओवरों में ही तीन विकेट खोकर 212 रन बनाकर जीत हालिस कर ली। इसी के साथ भारत का एक बार फिर से अफ्रीकी जमीन पर सीरीज जीतने का सपना टूट गया।

इससे पहले, चौथे दिन पहले सत्र में 101/2 से आगे खेलते हुए साउथ अफ्रीका टीम काफी अच्छी शुरूआत की। पीटरसन और डूसन ने भारतीय पेसरों पर हावी दिखाई दिए। इस बीच, पीटरसन ने शमी की गेंद पर दो रन बनाकर लगातार दूसरी पारी में अपना अर्धशतक पूरा किया। वहीं, चेतेश्वर पुजारा ने जसप्रीत बुमराह की गेंद पर पीटरसन का आसान मौका गंवा दिया।

हालांकि इसके बाद पीटरसन ने तेज गति से रन जोड़े और टीम का स्कोर 150 के पार पहुंचा दिया। अब जीतने के लिए महज 62 रन चाहिए थे। लेकिन शार्दुल ठाकुर ने साउथ अफ्रीका को तीसरा झटका दिया, जब पीटरसन को बोल्ड कर पवेलियन भेजा। उन्होंने 113 गेंदों पर दस चौकों की मदद से 82 रन बनाए। इस के साथ पीटरसन और डूसन के बीच 100 गेंदों में 54 रनों की साझेदारी का भी अंत हो गया।

इसके बाद बल्लेबाजी के लिए आए टेम्बा बावुमा ने डूसन के साथ मिलकर भारतीय तेज गेंदबाजों का डटकर सामना किया और टीम को और जीत के करीब ले गए, जिससे लंच तक साउथ अफ्रीका ने तीन विकेट गंवाकर 171 रन बना लिए थे। टीम को उस समय जीतने के लिए 41 रनों की जरूरत थी। रस्सी वैन डेर डूसन (22) और टेम्बा बावुमा (12) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे।

वहीं, तीसरे दिन तक भारतीय टीम ने ऋषभ पंत (100) की शानदार नाबाद पारी की वजह से दूसरी पारी में 198 रन बनाए, जिससे साउथ अफ्रीका को 212 रन लक्ष्य दिया। दिन के खत्म होने तक दक्षिण अफ्रीका ने 29.4 ओवरों में दो विकेट खोकर 101 रन बना लिए थे।

सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने वाले कीगन पीटरसन प्लेयर ऑफ द मैच और प्लेयर ऑफ द सीरीज बने।

संक्षिप्त स्कोर :

भारत 223 और दूसरी पारी में 67.3 ओवरों में 198/10 (ऋषभ पंत 100 नाबाद, कप्तान विरोट कोहली 29, मार्को जेनसेन 4/36, कगिसो रबाडा 3/53) दक्षिण अफ्रीका 210 और दूसरी पारी 63.3 ओवरों में 212/3 (कीगन पीटरसन 82, रस्सी वैन डेर डूसन नाबाद 41 और टेम्बा बावुमा नाबाद 32, मोहम्मद शमी 1/41, जसप्रीत बुमराह 1/54, शार्दुल ठाकुर 1/22)।

--आईएएनएस

आरजे/आरजेएस