महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप: प्रीति, नीतू और मंजू प्री क्वार्टरफाइनल में

महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप: प्रीति, नीतू और मंजू प्री क्वार्टरफाइनल में
नई दिल्ली, 18 मार्च (आईएएनएस)। भारतीय मुक्केबाज प्रीति ने सभी बाधाओं को पार करते हुए एक रोमांचक मुकाबले में 2022 विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता लैकरमियोरा पेरिजोक को हरा दिया, जबकि नीतू घणघस और मंजू बम्बोरिया ने भी यहां इंदिरा गांधी खेल परिसर में जारी महिंद्रा आईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप 2023 में शनिवार को शानदार जीत हासिल कर ली।

2022 एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली धाकड़ मुक्केबाज प्रीति (54 किग्रा) ने इस टूर्नामेंट में अपनी दूसरी जीत दर्ज की। उन्होंने रिव्यू के बाद रोमानिया की पेरिजोक को 4-3 से मात दी। हरियाणा की इस मुक्केबाज ने अपनी प्रतिद्वंद्वी को चौंकाते हुए पहले राउंड में मजबूत शुरूआत की।

हालांकि सतर्क शुरूआत के बाद पेरिजोक ने दूसरे राउंड में शानदार वापसी की और मुकाबले को रोमांचक बना दिया। इसके बाद प्रीति की तकनीकी क्षमता और ²ढ़ विश्वास ने उन्हें अपने प्रतिद्वंद्वी पर काबू पाने में मदद की और उन्होंने शानदार जीत हासिल की। अंतिम-16 में अब इस भारतीय मुक्केबाज का सामना पिछले साल की विश्व चैंपियनशिप की एक और रजत पदक विजेता थाईलैंड की जुटामास जिटपोंग से होगा।

वहीं, 48 किग्रा वर्ग में 2022 राष्ट्रमंडल खेलों की चैंपियन नीतू घणघस ने पहले दौर में ही आरएससी के माध्यम से जीत दर्ज की। उन्होंने दक्षिण कोरिया की कांग डो-योन को आसानी से हरा दिया। 22 वर्षीय मुक्केबाज की आक्रमण क्षमता कोरियाई मुक्केबाज के खिलाफ बेहद मजबूत साबित हुई। नीतू ने शुरू से ही अपने विरोधी को जमने का एक भी मौका नहीं दिया।

नीतू लगातार अटैक कर रही थी और रुकने का नाम नहीं ले रही थी, इस वजह से रेफरी ने पहले दौर में बाउट रोक दी और भारतीय खिलाड़ी को टूर्नामेंट की पहली जीत सौंप दी। अगले दौर में अब नीतू का सामना ताजिकिस्तान की सुमैया कोसिमोवा से होगा।

प्रीति और नीतू की जीत के बाद, मंजू (66 किग्रा) ने भी न्यूजीलैंड की कारा व्हारेरू के खिलाफ सर्वसम्मत निर्णय से अपना मुकाबला जीत लिया। उनकी जीत के साथ ही टूर्नामेंट के तीसरे दिन भारतीय मुक्केबाजों ने मेजबान देश के लिए क्लीन स्वीप सुनिश्चित कर दिया। मंजू अब अपने अगले मुकाबले में शीर्ष वरीयता प्राप्त उज्बेकिस्तान की नवबखोर खामिदोवा के खिलाफ रिंग में उतरेंगी।

इस बीच, अल्जीरिया की 2022 की अफ्रीकी चैंपियन इमाने खलीफ ने केन्या की असिको फ्रेजा आन्यांगो को आसानी से हरा दिया। उन्होंने रेफरी द्वारा पहले दौर में मुकाबला रोकने के बाद 66 किग्रा वर्ग में शानदार जीत दर्ज की।

भारतीयों में मौजूदा विश्व चैंपियन निखत जरीन 50 किग्रा वर्ग के एक मुकाबले में रविवार को अल्जीरिया की रौमेसा बौआलम के खिलाफ रिंग में उतरेगी, जबकि 2022 विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता मनीषा मौन (57 किग्रा) भी इसी दिन अपने अभियान की शुरूआत करेंगी।

रविवार को अन्य मुकाबलों में 2019 की विश्व चैंपियन फिलीपींस की नेस्थी पेटेसियो, 2020 टोक्यो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता जापान की त्सुकिमी नमिकी, 2022 विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता इरमा टेस्टा, 2016 की रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता कोलंबिया के इंग्रिट वालेंसिया और 2022 विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता जोड़ी मुक्केबाज कैरोलिना डी अल्मेडा और कजाख करीना इब्रागिमोवा भी एक्शन में दिखाई देंगी।

विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप 2023 में 65 देशों की कई ओलंपिक पदक विजेताओं सहित 324 मुक्केबाज भाग ले रही हैं। ये मुक्केबाज 12 अलग-अलग भार वर्गों में अपनी चुनौती पेश कर रही हैं। टूर्नामेंट में 20 करोड़ रुपये का विशाल पुरस्कार पूल है।

--आईएएनएस

आरआर

Share this story

TOP STORIESs