खेल

प्रदेश में केरल, उड़ीसा व हरियाणा की तर्ज पर बनाया जाएगा स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फंड

देहरादून: खेल विभाग को सशक्त बनाने के लिए राज्य में नई पहल की गई है I प्रदेश में केरल, उड़ीसा व हरियाणा की तर्ज पर स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फंड बनाया जाएगा। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्या ने इसके लिए अधिकारियों को इन राज्यों की नीति का अध्ययन करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि 29 अगस्त को खेल दिवस पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी उदीयमान खिलाड़ी उन्नयन योजना का शुभारंभ करेंगे।

यमुना कॉलोनी स्थित शासकीय आवास पर विभागीय समीक्षा बैठक में मंत्री रेखा आर्या ने कहा कि प्रदेश में स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फंड बनाया जाएगा, ताकि खेल विभाग वित्तीय रूप से सशक्त बन सके। उन्होंने कहा कि तमाम राज्यों में यह व्यवस्था लागू है। इस फंड में खेल विभाग के लिए सीएसआर व अन्य मदों से वित्तीय प्रबंधन किया जा सकेगा, जिसका उपयोग खिलाड़ियों को आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराने में किया जाएगा। 

मंत्री ने कहा कि प्रदेश में खिलाड़ियों को सरकारी नौकरियों में चार प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण दिए जाने की व्यवस्था थी, लेकिन फिलहाल यह मामला न्यायालय में है। ऐसे में हम किस प्रकार से पुन: क्षैतिज आरक्षण को पुनर्जीवित कर सकते हैं, इस संबंध में संबंधित अधिकारियों को इसका समाधान निकालने के निर्देश दिए गए।

साथ ही खेल मंत्री रेखा आर्या ने खेल विभाग की वेबसाइट अपडेट नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने जल्द से जल्द वेबसाइट को पूरी तरह से अपडेट करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में सचिव खेल एवं युवा कल्याण विभाग अभिनव कुमार, निदेशक खेल एवं युवा कल्याण डॉ. जीएस रावत, संयुक्त निदेशक खेल एसके सारकी, उपनिदेशक खेल मनोज कुमार शर्मा आदि मौजूद थे। 

खेल मंत्री ने कहा कि राज्य में खेल छात्रवृत्ति का जिओ जारी हो चुका है। इससे प्रदेश के खिलाड़ियों को अपने खेल को निखारने का मौका मिलेगा। मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री की उदीयमान खिलाड़ी उन्नयन योजना के तहत राज्य के आठ से 14 वर्ष तक के खिलाड़ियों को प्रत्येक जिले में 150-150 बालक-बालिकाओं को प्रतिमाह 15 सौ रुपये की छात्रवृत्ति दी जाएगी। उन्होंने कहा कि 29 अगस्त खेल दिवस के दिन इस योजना को मुख्यमंत्री विधिवत रूप से शुभारंभ करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button