उत्तराखण्ड

एससीईआरटी की योजना, बोर्ड परीक्षा को तनाव रहित बनाने के लिए परीक्षा से पहले छात्र-छात्राएं करेंगे योगासन

देहरादून: अब बोर्ड परीक्षा को तनाव रहित बनाने के लिए परीक्षा से पहले छात्र-छात्राएं पद्मासन व सुखासन करते नजर आएंगे। इसके लिए राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) द्वारा विस्तृत मार्गदर्शिका तैयार कर सभी जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान को भेज दी गई है।

उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा 28 मार्च से प्रस्तावित है। इस बार हाईस्कूल व इंटरमीडिएट में 2.72 लाख परीक्षार्थी बोर्ड परीक्षा देंगे। इसके सन्दर्भ में अकादमिक शोध एवं प्रशिक्षण निदेशक आरके कुंवर ने पत्र जारी करते हुए कहा है कि कोरोना के कारण विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित रही है। जिसकी वजह से परीक्षा के संदर्भ में तनाव व चिंता की स्थिति बनी हुई है। परीक्षा को तनाव के बजाय उत्सव बनाने की जरूरत है। बच्चे परीक्षा को सकारात्मक रूप में लें इसके लिए परीक्षा एक उत्सव मार्गदर्शिका अहम साबित होगी। शारीरिक दूरी का पालन कराते हुए 21 मार्च को मार्गदर्शिका बोर्ड परीक्षा देने जा रहे बच्चों के बीच रखी जाएगी। जिसकी आख्या एससीईआरटी को उपलब्ध करानी होगी।

परीक्षा को तनाव मुक्त रखने के लिए योगा की कई विधियो द्वारा बच्चों के मन को एकाग्र किया जा सकेगा। इसके लिए मांसपेशी विश्राम तकनीक का अभ्यास कराना होगा। स्लोगन, लेखन, पोस्टर निर्माण के लिए भी कहा गया है। इससे जरिये परीक्षा अवधि में कैसे पढ़े, समय प्रबंधन, अध्ययन की कार्ययोजना, परीक्षा के एक दिन पूर्व की तैयारी, परीक्षा के दिन क्या करें व क्या न करें जैसे बिंदुओं पर अभ्यास कराया जाएगा।

Related Articles

Back to top button