उत्तराखण्ड

वेतन के लिए मुखर हुए रोडवेज कर्मचारी

देहरादून : रोडवेज कर्मचारी एक बार फिर से वेतन न मिलने पर मुखर होने लगे हैं। जिसको लेकर रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद ने एक घंटे का अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार शुरू कर दिया है। कर्मचारियों ने हरिद्वार रोड स्थित कार्यशाला में प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी कर धरना दिया। उन्होंने प्रबंधन को चेतावनी दी कि जल्द वेतन नहीं मिला तो वे आंदोलन तेज कर देंगे।

परिषद के प्रदेश महामंत्री दिनेश पंत ने कहा कि कर्मचारियों को दिसंबर से वेतन नहीं मिल पाया। प्रबंधन वेतन देने के बजाय एसीपी के नाम पर वेतन से कटौती के आदेश कर रहा है, ताकि वेतन के बजट को कम किया जा सके। एसीपी में कटौती को लेकर कर्मचारियों ने प्रत्यावेदन दिए थे, उनका निस्तारण नहीं हुआ। राज्य सरकार ने भी वेतन विसंगति समिति बनाई है, अभी तक समिति की रिपोर्ट भी नहीं आई। इसके बावजूद भी प्रबंधन ने वेतन से कटौती के आदेश कर दिए हैं, जो न्यायोचित नहीं है। वहीं तीन महीने से वेतन नहीं मिलने से कर्मचारी परेशान हैं। जिसकी वजह से उनको आर्थिक संकट से जूझना पड़ रहा है। वहीं, दूसरी तरफ प्रबंधन अनुबंधित बस मालिकों को करोड़ों रुपये का भुगतान कर रहा है।

इस मौके पर क्षेत्रीय मंत्री राकेश पेटवाल, अध्यक्ष मेजपाल सिंह, किशनपाल, अरुण सब्बरवाल, आनंद कुकरेती, मंजीत सिंह, अनिल धीमान, संजय डोभाल आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button