उत्तराखण्ड

सीएम धामी का निर्यात को बढ़ावा, प्रदेश में उत्पादित आम का दुबई और राजमा-शहद का अमेरिका लेगा स्वाद

देहरादून: शुक्रवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य में उत्पादित आम और शहद की पहली खेप को एपीडा के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय बाजार दुबई में निर्यात के लिए हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उत्तराखंड में उत्पादित लंगड़ा व चौंसा आम का दुबई तथा राजमा व शहद का अमेरिका में निर्यात किया जाएगा।

वित्तीय वर्ष 2021-22 में उत्तराखंड से 15673 मीट्रिक टन कृषि व बागवानी उत्पादों का निर्यात विभिन्न देशों के लिए किया गया। इसकी कीमत 95.40 करोड़ है। प्रदेश सरकार कृषि प्रसंस्करण खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपिडा) के सहयोग से कृषि व औद्यानिकी फसलों के निर्यात को बढ़ावा दे रही है।

सरकार का फोकस राज्य से फल, सब्जी, मसाला, पुष्प, शहद और मशरूम के निर्यात पर है। पहली बार उत्तराखंड का लंगड़ा व चौंसा आम दुबई के लिए निर्यात किया जा रहा है। वहीं, अमेरिका के लिए उत्तराखंड का प्रसिद्ध राजमा व आर्गेनिक शहद का निर्यात किया जाएगा।

पहली बार दुबई के लिए आम का निर्यात

उद्यान निदेशक डॉ. एचएस बवेजा ने बताया कि पांच अगस्त को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी व कृषि एवं उद्यान मंत्री गणेश जोशी सीएम आवास से दुबई और अमेरिका के लिए आम, शहद व राजमा के कंटेनर को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। पहली बार दुबई के लिए आम का एक कंटेनर निर्यात किया जा रहा है।

जबकि अमेरिका के लिए किसान उत्पादक संगठनों के माध्यम से उत्पादित शहद के दो कंटेनर और राजमा का एक कंटेनर भेजा जा रहा है। उन्होंने कहा कि एपिडा के सहयोग से उत्तराखंड से गुणवत्ता युक्त बागवानी उत्पादों का निर्यात किया जा रहा है।

प्रदेश में 10 करोड़ की लागत से 251 मीट्रिक टन जैविक उत्पादों का निर्यात किया गया। निर्यात को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार के वित्तीय सहयोग से एपिडा के माध्यम से राजकीय उद्यान गंगा लहरी देहरादून व राजकीय उद्यान कालाढुंगी नैनीताल में एकीकृत पैकिंग हाउस स्थापित करने के लिए प्रस्ताव तैयार किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button