केरल सरकार ने आखिरकार विवादास्पद केरल रेल परियोजना की विस्तृत रिपोर्ट जारी की

तिरुवनंतपुरम, 15 जनवरी (आईएएनएस)। केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने आखिरकार विवादास्पद रेल परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) जारी कर दी है।
 
केरल सरकार ने आखिरकार विवादास्पद केरल रेल परियोजना की विस्तृत रिपोर्ट जारी की
तिरुवनंतपुरम, 15 जनवरी (आईएएनएस)। केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने आखिरकार विवादास्पद रेल परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) जारी कर दी है।

इसे केरल विधानसभा की वेबसाइट पर शनिवार को अपलोड किया गया, जिसे कांग्रेस के नेतृत्व ने जल्दबाजी में तैयार की गई रिपोर्ट के अलावा कुछ भी नहीं बताया।

यह रिपोर्ट 3,776 पृष्ठों और चार खंडों में है और अगर यह परियोजना पूरी हो जाती है तो तिरुवनंतपुरम से कासरगोड को जोड़ने वाले 529.45 किलोमीटर के गलियारे से एक हाई स्पीड ट्रेन इस दूरी को लगभग चार घंटे में पूरी कर सकेगी। इसकी लागत 63,940 करोड़ रुपये होगी।

विपक्ष के नेता वी.डी. सतीसन ने कहा कि यह दूसरा ही दिन है कि मुख्य सूचना आयुक्त ने कहा था कि इस रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं किया जा सकता है क्योंकि इसमें बहुत गोपनीय जानकारी है।

सतीसन ने कहा अब क्या हुआ है और इसकी गोपनीयता कहां गायब हो गई। इसे सिर्फ इसलिए जारी किया गया क्योंकि दो दिन पहले हमारे विधायक अनवर सादात ने विजयन के खिलाफ अवमानना नोटिस दिया था। यह इसलिए हुआ क्योंकि विधानसभा में एक प्रश्न के उत्तर में विजयन ने उल्लेख किया था कि परियोजना सहित सभी विवरण बाहर कर दिया गया है और एक सीडी प्रारूप में दिया गया है। ऐसा कभी नहीं हुआ था और अवमानना नोटिस को देखते हुए विजयन ने इसे विधानसभा की वेबसाइट पर जारी किया। इससे यह बहुत स्पष्ट हो गया है कि इसमें कुछ भी गुप्त नहीं था, ।

सतीसन ने आगे कहा कि जिस फ्रांसीसी कंपनी ने खुद डीपीआर तैयार की थी, उसने खुद ही कहा है कि यह डीपीआर बहुत जल्दबाजी में तैयार की गई थी।

एक मशहूर पत्रकार ने नाम गुप्त रखने की शर्त पर कह विजयन अगर अब सोचते हैं कि वह अपने इलाज के लिए शनिवार को अमेरिका के लिए रवाना हो गए और जब इस महीने की 29 तारीख को लौटेंगे तो, उसके लौटने पर परियोजना का सारा विरोध समाप्त हो जाएगा। यह सब मामलों को मीडिया से दूर रखने की रणनीति है।

--आईएएनएस

जेके