धर्म

Kashi Vishwanath: चिलचिलाती धूप भी नहीं कर पाएगी बाबा विश्वनाथ के भक्तों को परेशान ,जर्मन हैंगर व मैट से भक्तों को तपिश से राहत


वाराणसी, 20 मई (आईएएनएस)। श्री काशी विश्वनाथ धाम में अब शिवभक्तों को ना तो धूप लगेगी और ना ही बरसात का असर होगा। इसके लिए सरकार तरफ से जर्मन हैंगर, मैट और वाटर कूलर की व्यवस्था की गई है। इससे श्रद्धालुओं को काफी राहत मिल रही है।

महादेव के भक्तों को बाबा के दरबार में पहुंचने में कोई परेशानी न हो इसके लिए योगी सरकार ने हर तरह के प्रबंध किये हैं। चिलचिलाती धूप और तापमान से जलती जमीन से श्रद्धालुओं को बचाने के लिए योगी सरकार श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के विस्तारित आंगन में मैट बिछवाकर जर्मन हैंगर से छांव की व्यवस्था करा दी है। वहीं उमस भरी गर्मी में एयर कूलर से बाबा के भक्तों को सावनी फुहार जैसी राहत मिल रही है।

 

kashi vishavnath

 

श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के विस्तारित आंगन में भक्तों के लिए वाटर कूलर की भी व्यवस्था की गई है। बाबा की भक्ति में डूबे भक्तों को जर्मन हैंगर बरसात में भी बारिश से भींगने से बचाएगा।

श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के एसडीएम शम्भू शरण ने बताया कि तापमान बढ़ने से श्रद्धालुओं को काफी परेशानी हो रही थी। इसके चलते कतार में लगने वाले श्रद्धालुओं को धूप लग रही थी, वहीं तपन से फर्श पर पांव जल रहे थे और उमस भरी गर्मी से श्रद्धालुगण बेहाल हो रहे थे। इसके लिए मंदिर प्रशासन ने गंगाधर (गंगा द्वार) से मंदिर चौक परिसर होते हुए मंदिर जाने तक वाले मार्ग पर जर्मन हैंगर, कैनोपी, मैट, 10 वाटर कूलर, 22 इंडस्ट्रियल एयर कूलर लगवाया है, इससे देश के कोने-कोने से आने वाले बाबा के भक्तों को काफी राहत मिल रही है।

एसडीएम शम्भू शरण ने बताया कि श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में लगा अस्थाई जर्मन हैंगर बरसात तक रहेगा। गर्मी से बचाव के साथ ही बारिश में भी भक्तों को भीगने से बचाएगा। योगी सरकार देवाधिदेव महादेव के भक्तों को सुगम दर्शन सुरक्षा और सुविधा देने के लिए पहले दिन से ही कटिबद्ध है।

मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने कहा कि गर्मी में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए जर्मन हैंगर के साथ ही पानी का भी इंतजाम धाम क्षेत्र में जगह-जगह किया गया है।

–आईएएनएस

विकेटी/सीबीटी

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button