पटना का शख्स हुआ हनी ट्रेन का शिकार, साइबर सेल में शिकायत दर्ज

पटना, 14 जनवरी (आईएएनएस)। दानापुर इलाके में एक निजी कंपनी के एक एरिया मैनेजर ने पटना पुलिस साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है कि फेसबुक पर एक लड़की ने उसे हनीट्रैप में फंसाया है।
 
पटना का शख्स हुआ हनी ट्रेन का शिकार, साइबर सेल में शिकायत दर्ज
पटना, 14 जनवरी (आईएएनएस)। दानापुर इलाके में एक निजी कंपनी के एक एरिया मैनेजर ने पटना पुलिस साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है कि फेसबुक पर एक लड़की ने उसे हनीट्रैप में फंसाया है।

लड़की एक वीडियो चैट के दौरान नग्न हो गई और बातचीत को रिकॉर्ड कर लिया। बाद में उसने पीड़ित को 20,000 रुपये देने के लिए ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया, नहीं तो वह वीडियो को इंटरनेट पर साझा कर देगी।

शिकायत में पीड़ित ने आरोप लगाया है कि उसने हफ्तों पहले फेसबुक पर एक लड़की से दोस्ती की थी।

शिकायतकर्ता ने कहा, दोस्ती के बाद, फेसबुक मित्र ने मंच पर मेरे साथ चैट करना शुरू कर दिया और कुछ वीडियो चैट के बाद, हमलोग अच्छे दोस्त बन गए। उसके बाद लड़की चैट के दौरान स्क्रीन पर नग्न हो गई।

कुछ दिनों के बाद, उसने मेरे व्हाट्सएप पर वही वीडियो भेजा और जबरन वसूली की पहली किस्त के रूप में 20,000 रुपये की मांग की। इसे देखकर मैं चौंक गया। जब मैंने महिला से संपर्क किया, तो उसने मुझे बताया कि उसने स्क्रीन रिकॉडिर्ंग का इस्तेमाल किया था। अगर मैं उक्त राशि का ऑनलाइन भुगतान नहीं करूंगा, उसने मुझे इंटरनेट पर वीडियो अपलोड करने की धमकी भी दी।

इंस्पेक्टर रैंक के एक अधिकारी ने कहा, हमने एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की है और वर्तमान में जांच चल रही है। यह साइबर गिरोह के लिए आसान काम हो सकता है। ऐसे गिरोह का पता लगाना बेहद मुश्किल है क्योंकि वे कंप्यूटर सिस्टम के आईपी पते को बदलने में विशेषज्ञ हैं। वे नकली डिजिटल प्रोफाइल का उपयोग करें और फेसबुक, इंस्टाग्राम और अन्य डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से लोगों को लक्षित करते हैं।

उन्होंने कहा, जागरूकता हनीट्रैप से बचने का सबसे अच्छा तरीका है।

--आईएएनएस

आरएचए/आरजेएस