जर्मनी में कोरोना के रिकॉर्ड मामले दर्ज

बर्लिन, 14 जनवरी (आईएएनएस)। जर्मनी में कोरोना मामलों की संख्या बढ़कर 81,417 तक पहुंच गई है जिसने नया रिकॉर्ड बनाया है। यह एक हफ्ते पहले की तुलना में लगभग 17,000 से ज्यादा है। ये जानकारी संक्रामक रोगों के इंस्टीट्यूट (आरकेआई) के रॉबर्ट कोच ने दी।
 
जर्मनी में कोरोना के रिकॉर्ड मामले दर्ज
बर्लिन, 14 जनवरी (आईएएनएस)। जर्मनी में कोरोना मामलों की संख्या बढ़कर 81,417 तक पहुंच गई है जिसने नया रिकॉर्ड बनाया है। यह एक हफ्ते पहले की तुलना में लगभग 17,000 से ज्यादा है। ये जानकारी संक्रामक रोगों के इंस्टीट्यूट (आरकेआई) के रॉबर्ट कोच ने दी।

आरकेआई के अनुसार, देश की सात-दिवसीय कोरोना घटना दर भी गुरुवार को प्रति 100,000 निवासियों पर 427.7 मामले तक पहुंच गई, जो एक सप्ताह पहले 285.9 थी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, संघीय स्वास्थ्य मंत्री कार्ल लॉटरबैक ने गैर-टीकाकरण वाले लोगों से अपना पहला टीका लेने का आग्रह किया।

उन्होंने गुरुवार को बुंडेस्टाग (संसद के निचले सदन) को बताया, जो कोई भी बूस्टर शॉट चाहता है, उसके लिए टीके उपलब्ध हैं।

आरकेआई और स्वास्थ्य मंत्रालय (बीएमजी) द्वारा जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, बुधवार तक, देश की 72.3 प्रतिशत आबादी को कम से कम 3.75 करोड़ बूस्टर शॉट्स के साथ पूरी तरह से टीका लगाया गया है। हालांकि, जर्मनी में अभी तक 2.09 करोड़ लोगों को कोरना का टीका नहीं लगा हैं।

लॉटरबैक ने जर्मनी में अनिवार्य कोरोनावायरस टीकाकरण के लिए अपना समर्थन दिया, जिसे उन्होंने महामारी से बाहर निकलने का सबसे सुरक्षित और तेज तरीका बताया है।

टीकाकरण पर देश की स्थायी समिति (एसटीआईकेओ) ने गुरुवार को कहा कि वर्तमान में कोरोना मामलों की संख्या में वृद्धि ओमिक्रॉन वेरिएंट के कारण हुई है। जर्मनी में स्वास्थ्य प्रणाली के लिए संभावित परिणामों के कारण टीकाकरण अभियान का विस्तार आवश्यक है।

एसटीआईकेओ ने कहा, 12 से 17 वर्ष की आयु के बच्चों और किशोरों को फाइजर या बायोएनटेक वैक्सीन बूस्टर शॉट प्राप्त करना चाहिए। तीसरे टीके की खुराक पिछले टीकाकरण के कम से कम तीन महीने बाद दी जानी चाहिए।

--आईएएनएस

एसएस/आरजेएस