AD
खेल

गुप्टिल की कमी खलेगी लेकिन उन्होंने अभी संन्यास नहीं लिया है: विलियमसन

आकलैंड, 24 नवम्बर (आईएएनएस)। सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल द्वारा केंद्रीय अनुबंध को न स्वीकारने और न्यूजीलैंड क्रिकेट द्वारा गुप्टिल को अनुबंध से मुक्त किए जाने के फैसले पर न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने कहा है कि टीम को गुप्टिल की काफी कमी खलेगी। 36 वर्षीय गुप्टिल, एक ऐसे समूह का हिस्सा हैं जो देश से बाहर अपने लिए अवसर तलाश रहा है।

मौजूदा समय में साल के हर महीने में फ्ऱैंचाइजी क्रिकेट का आयोजन हो रहा है जो खिलाड़ियों को आकर्षित राशि भी मुहैया करा रहा है। ऐसे में ट्रेंट बोल्ट, जिमी नीशम और कॉलिन डि ग्रैंडहोम ने उसी ओर जाने का फैसला किया। विलियमसन ने कहा, जाहिर तौर पर उन्होंने (गुप्टिल ने) अन्य विकल्प तलाशने का निर्णय लिया है। लेकिन एक खिलाड़ी और टीम के अनुभवी सदस्य होने के नाते उन्होंने काफी योगदान दिया और इसके साथ ही वह सफेद गेंदों के हमारे सबसे बड़े क्रिकेटरों में से एक रहे हैं।

सफेद गेंद क्रिकेट में 10,000 से अधिक रन बनाने वाले गुप्टिल ने न्यूजीलैंड की सफलता में बड़ी भूमिकाएं अदा की। लेकिन पहले उन्हें टी20 विश्व कप में एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं दिया गया और इसके बाद न्यूजीलैंड में जारी सीरीज में भी उनका चयन नहीं किया गया।

ऐसा माना जा रहा है कि गुप्टिल दिसंबर में शुरू होने वाले बीबीएल में खेल सकते हैं। इसके साथ ही यूएई में होने वाली आईएल20 लीग में भी वह माय एमिरेट्स का हिस्सा हो सकते हैं। डि ग्रैंडहोम भी संन्यास ले चुके हैं जबकि चार खिलाड़ियों में नीशम ही इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जो शुक्रवार को भारत के विरुद्ध भिड़ने की तैयारी करने वाले दल का हिस्सा हैं।

न्यूजीलैंड क्रिकेट पहले ही इस बात पर जोर दे चुका है कि वह टीम का चयन करने के क्रम में ऐसे खिलाड़ियों को तरजीह देगा जो केंद्रीय अनुबंधों की सूची का हिस्सा हैं। हालांकि विलियमसन का मानना है कि एक ऐसा बीच का रास्ता निकालना चाहिए जहां खिलाड़ी और टीम दोनों का फायदा हो।

विलियमसन ने कहा, गुप्टिल रिटायर नहीं हुए हैं। वह उपलब्ध हैं लेकिन अन्य टूर्नामेंट में अपने विकल्प तलाश रहे हैं। वह अभी भी लगातार बेहतर करने के लिए उत्साहित हैं। मुझे लगता है कि यह आग सभी खिलाड़ियों के भीतर होनी चाहिए। एक खिलाड़ी के तौर पर आपको कई उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ता है। उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला, इसके बावजूद वह अन्य खिलाड़ियों की मदद करने के लिए तत्पर दिखे। इसलिए अब उनकी कमी तो खलेगी लेकिन जैसा मैंने कहा कि वह अभी रिटायर नहीं हुए हैं।

विलियमसन भी कुछ इसी तरह के सवालों का सामना कर रहे हैं कि उन्हें तीनों प्रारूप में खेलना और न्यूजीलैंड की अगुआई करनी चाहिए या नहीं? लेकिन पिछले सप्ताह ही उन्होंने इस बात पर जोर दिया था कि वह इसे आगे जारी रखना चाहते हैं।

–आईएएनएस

आरआर

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button