उत्तराखण्ड

सरकार ने किया पेयजल सिस्टम को ठप बिना पेयजल के ही बिछा दीं पानी की लाइनें: गौरव बल्लभ

देहरादून: कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव बल्लभ ने कहा कि भाजपा सरकार ने उत्तराखंड में भाजपा की जल जीवन मिशन योजना को लेकर निशाना साधा | उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने साढ़े छह लाख घरों में पानी के नल लगाए जिनमे से 80 फीसदी नलों मे पानी की सुविधा ही नहीं है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार ने राज्य में पूरे पेयजल सिस्टम को ठप कर दिया बिना पेयजल योजना के ही पानी की लाइनें बिछा दीं।

गौरव बल्लभ ने आरोप लगाते हुए कहा कि देश में उत्तराखंड पहला ऐसा राज्य होगा, जहां बिना पानी के ही घरों में सूखे नल खड़े कर दिए गए। जब पेयजल योजना ही नहीं बनाई गई तो पानी का इंतजाम कैसे होगा, इस सवाल का कोई जवाब भाजपा के पास नहीं है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन योजना के नाम पर सीधे तौर पर एक बड़ा भ्रष्टाचार है। भाजपा के राज में बिजली लगातार महंगी होती चली गई। प्रति यूनिट बिजली के लिए चार से छह रुपये वसूले जा रहे हैं। जब कांग्रेस की सरकार आएगी, तो लोगों को पहले साल 200 यूनिट बिजली फ्री देंगे। इसके बाद धीरे-धीरे यह लिमिट बढ़ाई जाएगी। इसके लिए संसाधन विकसित किए जाएंगे। उन्होंने कहा-इसके साथ चार धाम, चार काम के नारे के साथ राज्य में पलायन की समस्या को समाप्त किया जाएगा। 

उन्होंने कहा कि पलायन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार राज्य में आज साढ़े तीन लाख घरों में कोई नहीं रहता। 1734 गांव खाली हो चुके हैं। राज्य के 500 गांव ऐसे हैं, जहां दस से कम लोग रहते हैं। उत्तराखंड में 55 प्रतिशत लोगों के पलायन का मुख्य कारण बेरोजगारी है। इस बेरोजगारी को कांग्रेस चरणबद्ध तरीके से समाप्त करेगी। चार लाख रोजगार दिए जाएंगे। पहले साल 57 हजार खाली पद भरे जाएंगे। शेष लोगों को पर्यटन, फार्मा इंडस्ट्री, आयुर्वेद, कृषि समेत तमाम क्षेत्रों में रोजगार मुहैया कराए जाएंगे।

इस दौरान संगठन महामंत्री मथुरादत्त जोशी, महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, अमरजीत सिंह मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button