Breaking News
उत्तर प्रदेश

बागपत में डीपीआरओ- पंचायत सचिव आमने सामने, बड़े आंदोलन की सुगबुगाहट

रिपोर्टर-  कुलदीप तोमर

बागपत, सत्य वॉइस। जिले में डीपीआरओ और पंचायत सचिवों के बीच का विवाद बढ़ता जा रहा है। पंचायत सचिवों ने जिला पंचायत राज अधिकारी पर उत्पीडन का आरोप लगाते हुए मंगलावर से कार्य बहिष्कार कर विकास भवन पर धरना देने का निर्णय लिया है।

गौरतलब है कि जिले के पंचायत सचिवों ने जिला पंचायत राज अधिकारी पर आला अधिकारियों तथा एक मंत्री के नाम पर 50 -50 हजार रूपये प्रति ब्लाक से वसूली करने तथा 50-50 हजार रूपये की ओर मांग करने तथा कलस्टर बदलवाने आदि को पचास हजार से एक लाख रूपये की मांग करने का आरोप लगाया है। पंचायत सचिवों का आरोप है कि उनके द्वारा धन वसूली की इच्छा पूर्ति ना होने पर डीपीआरओ कार्यालय द्वारा अनावश्यक पत्राचार के माध्यम से निलंबित व एफआईआर की धमकी दी जा रही है।

पंचायत सचिवों ने जिला पंचायत राज अधिकारी पर उत्पीडन का आरोप लगाते हुए मंगलावर से कार्य बहिष्कार कर विकास भवन पर धरना देने का निर्णय लिया है। यह धरना अनिश्चितकालीन रहेगा। प्रभारी डीपीआरओ का कार्यकाल पूर्व में भी विवादित ही रहा है। इससे लगता है कि पंचायत सचिवों और डीपीआरओ के वीच का विवाद बागपत में भी बड़े आंदोलन में तब्दील होगा। इस संबंध में जब डीपीआरओ बनवारी लाल से उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उनसे संपर्क नही हो पाया।

विवादित ही रहता है प्रभारी डीपीआरओ का कार्यकाल

सूत्रों का कहना है कि प्रभारी डीपीआरओ बनवारी लाल जब हाथरस में थे तब वहां भी इनका कार्यकाल विवादित ही रहा था। इनके कार्यकाल में निलंबन और बहाली का खेल खूब जोरशोर पर था। लगभग एक दर्जन से ज्यादा कर्मचारी इनके शोषण का शिकार हुए थे। प्रभारी जिला पंचायत राज अधिकारी को शासन द्वारा वित्तीय अधिकार नही दिए जाते लेकिन इन्होंने अपने रसूख और जोड़तोड़ से हाथरस में ये अधिकार भी हासिल कर लिए थे।

इतना ही नही, कर्मचारियों को निलंबन और एफआईआर की धमकी देकर अवैध वसूली के आरोप हाथरस में भी खूब लगे थे। सूत्र बताते हैं कि शाहजहांपुर में जब ये मान्यवर पोस्टेड थे तो इनके शोषण से तंग आकर एक सफाई कर्मचारी ने भी आत्महत्या की कोशिश की थी। अमेठी में भी सफाई कर्मचारियों ने इनके शोषण से तंग आकर सड़कों पर उतरकर मोर्चा खोला था।

vojnetwork@gmail.com

No.1 Hindi News Portal

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button