दुनिया

चीनी सशस्त्र बलों की क्षमता को कम नहीं आंकना चाहए हम अंत तक लड़ सकते हैं: वेई फेंघे

देहरादून: चीन ने ताइवान को लेकर अमेरिका को युद्ध की चेतावनी दी है। जिसके बाद अमेरिका के रक्षा सचिव लायड आस्टिन ने अपना एक बयान जरी किया| जिस पर टिप्पणी देते हुए चीनी रक्षा मंत्री ने कहा कि चीनी सशस्त्र बलों की क्षमता को कम नहीं आंकना चाहए हम अंत तक लड़ सकते हैं।

अमेरिका के रक्षा सचिव लायड आस्टिन के बयान पर चीन के विदेश मंत्री वेई फेंघे ने पलटवार किया है। चीनी रक्षा मंत्री ने क्षेत्रीय व्यवस्था के लिए चीन के दृष्टिकोण पर चर्चा करते हुए कहा कि बीजिंग अंत तक लड़ेगा। उन्होंने यह भी कहा कि किसी को भी क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए चीनी सशस्त्र बलों के संकल्प और क्षमता को कम नहीं आंकना चाहिए।

दरासल, अमेरिकी रक्षा सचिव लायड आस्टिन के एक दिन पहलेअपने एक भाषण में कहा था कि बीजिंग की आक्रामक और खतरनाक कार्रवाई एशिया में स्थिरता के लिए खतरा हैं।

वहीं, चीनी मंत्री ने आज कहा कि जो लोग चीन को विभाजित करने के प्रयास में ताइवान की स्वतंत्रता का हवाला दे रहे हैं, उनका निश्चित रूप से कोई अच्छा अंत नहीं होगा। फेंघे ने आज कहा हम हर कीमत पर अंत तक लड़ेंगे|

आस्टिन ने आगे कहा था कि इंडो-पैसिफिक देशों को समुद्री मिलिशिया द्वारा राजनीतिक धमकी, आर्थिक जबरदस्ती या उत्पीड़न का सामना नहीं करना चाहिए।

उन्होंने कहा हम ताइवान संबंध अधिनियम, तीन संयुक्त विज्ञप्तियों और छह आश्वासनों द्वारा निर्देशित हमारी एक-चीन नीति के लिए दृढ़ता से प्रतिबद्ध हैं। हम किसी भी एकतरफा का स्पष्ट रूप से विरोध करते हैं। आस्टिन ने कहा पीआरसी (पीपुल्स रिपब्लिक आफ चाइना) इंडो-पैसिफिक में सुरक्षा, स्थिरता और समृद्धि को कमजोर करने की धमकी देता है।

उन्होंने आगे कहा अब हमारी एक-चीन नीति के हिस्से के रूप में हम ताइवान संबंध अधिनियम के तहत अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करना जारी रखेंगे। इसमें पर्याप्त आत्मरक्षा क्षमता बनाए रखने में ताइवान की सहायता करना शामिल है और इसका मतलब है कि बल के किसी भी उपयोग या अन्य प्रकार के जबरदस्ती का विरोध करने की अपनी क्षमता को बनाए रखना, जो ताइवान के लोगों की सुरक्षा या सामाजिक या आर्थिक व्यवस्था को खतरे में डाल देगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button