डॉक्टर ने ऑनलाइन ब्लैकमेल का शिकार होकर खुदकुशी की

बेंगलुरु, 14 जनवरी (आईएएनएस)। कर्नाटक रेलवे पुलिस ने एक डॉक्टर की आत्महत्या के मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जिसे उसके वीडियो पर ब्लैकमेल किया गया था। यह जानकारी पुलिस ने शुक्रवार को दी।
 
डॉक्टर ने ऑनलाइन ब्लैकमेल का शिकार होकर खुदकुशी की
बेंगलुरु, 14 जनवरी (आईएएनएस)। कर्नाटक रेलवे पुलिस ने एक डॉक्टर की आत्महत्या के मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जिसे उसके वीडियो पर ब्लैकमेल किया गया था। यह जानकारी पुलिस ने शुक्रवार को दी।

हाल ही में बेंगलुरू के केंगेरी के पास ट्रेन की चपेट में आकर आत्महत्या करने वाले डॉक्टर के मामले की जांच करते हुए रेलवे पुलिस को इस मामले का पता चला।

पुलिस के मुताबिक, उन्होंने भोपाल से एक आरोपी को हिरासत में ले लिया और गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश शुरू कर दी है। गिरोह के सदस्यों ने डेटिंग एप के जरिए डॉक्टर को फंसाया था। उससे परिचय होने और दोस्ती बढ़ने के बाद पीड़ित डॉक्टर ने आरोपी से खुलकर बात करना शुरू कर दिया था

एक आरोपी ने उसे लड़की का पोज दिखाकर बात की और डॉक्टर से बात करते हुए कपड़े उतारने को कहा और वह मान गया। बाद में, वीडियो को लेकर डॉक्टर को ब्लैकमेल किया और आरोपी व्यक्तियों ने पैसे की मांग की।

पीड़ित ने आरोपी को 67 हजार रुपये ऑनलाइन ट्रांसफर किए थे। लेकिन उसे बाद में भी आरोपियों के जबरन वसूली के लिए फोन आते रहे और उन्होंने धमकी दी कि अगर वह उन्हें और पैसे नहीं देंगे तो वह वीडियो वायरल कर देंगे। दबाव नहीं झेल पा रहे डॉक्टर ने पिछले सप्ताह ट्रेन के नीचे आकर आत्महत्या कर ली।

हालांकि, जब जांच शुरू हुई, तो पुलिस को डॉक्टर की मौत के कुछ दिनों बाद एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें उसने गिरोह के ब्लैकमेल करने का जिक्र किया था।

पुलिस के मुताबिक, राज्य की राजधानी में इस तरह का यह दूसरा मामला है। इसी तरह के एक मामले में अपने वीडियो को लेकर रंगदारी मांगने के दबाव में आकर एक युवक ने आत्महत्या कर ली। के.आर. पुरम पुलिस ने राजस्थान से 3 लोगों को गिरफ्तार किया है।

रेलवे पुलिस ने बताया कि पीड़ित डॉक्टर अपने माता-पिता की इकलौती संतान था। पुलिस ने लोगों से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर झांसे में नहीं फंसने का अनुरोध किया है, जहां बदमाश महिलाओं की भड़काऊ तस्वीरों के साथ पोज देते हैं। आरोपी किसी तरह पीड़ितों को बहला-फुसलाकर वीडियो बनाते हैं और बाद में उन्हें पैसे के लिए ब्लैकमेल करते हैं। लोगों को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अजनबियों के साथ चैट करने से पहले सावधान रहना चाहिए।

--आईएएनएस

एसएस/आरजेएस