Breaking News
अन्यवीडियो

बस एंजॉयनिंग लाइफ और ऑप्शन क्या हैं : संजय मिश्रा

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए पूरा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन का ऐलान किया है। वहीं कोरोना से बचाव के लिए सभी फिल्मों की शूटिंग पर रोक लगा दी गई है। ऐसे में बॉलीवुड सितारें अपने घरों में परिवार के साथ समय बिता रहे हैं। ऐसे में  कई सेलेब्स सोशल मीडिया पर पोस्ट और वीडियो शेयर कर रहे हैं। दिग्गज अभिनेता संजय मिश्रा इन दिनों अपने घर की साफ-सफाई में व्यस्त हैं। संजय मिश्रा ने बुधवार को ट्विटर पर एक वीडियो शेयर लिखा-‘डे-1 #नवरात्री #लॉकडाउन21, सच कहां हैं किसी ने, बस एंजॉयनिंग लाइफ और ऑप्शन क्या है, अपने घरों में रहिए।’
वीडियो में संजय मिश्रा अपने घर में पोछा लगाते नजर आ रहे हैं। ‘बस एंज्वाइंग लाइफ और ऑप्शन क्या है’ संजय की फिल्म ‘कामयाब’ का डायलॉग है। यह डायलॉग कुछ ही समय में सबकी जुबान पर चढ़ गया था। फिल्म ‘कामयाब’ में सभी ने संजय के अभिनय की भी खूब प्रशंसा की थी। अभिनेता संजय मिश्रा की फिल्म ‘कामयाब’ इसी साल 6 मार्च को रिलीज हुई थी। इस फिल्म को हार्दिक मेहता ने निर्देशित किया है। फिल्म शाहरुख खान की रेड चिलीज एंटरटेनमेंट द्वारा निर्मित और द्रिशम फिल्म्स द्वारा सह-निर्मित है।
फिल्म में भारतीय सिनेमा में संघर्षरत अभिनेताओं के सामने आने वाली कठिनाइयों का एक सिनेमाई चित्रण है। फिल्म की कहानी अभिनेताओं और उनके संघर्षों की कहानी के आसपास घूमती है। फिल्म में संजय मिश्रा और दीपक डोबरियाल के साथ सारिका सिंह और ईशा तलवार भी मुख्य भूमिका में हैं। फिल्म में सुधीर (संजय मिश्रा) की कहानी है, जो एक सहायक सुपरस्टार और एक अनुभवी अभिनेता है, जब उसे पता चलता है कि उसने 499 फिल्मों में काम किया है तो वह 500 का रिकॉर्ड बनाने का फैसला करता है। फिल्म 80 के दशक में एक कलाकार सुधीर की यात्रा को पेश करती है, जो वर्तमान में जीवन के साथ संघर्ष करता है।

vojnetwork@gmail.com

No.1 Hindi News Portal

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button