Breaking News
उत्तराखंड

21 दिन का लॉकडाउन, जानिए क्या रहेगा खुला और क्या होगा बंद

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस की महामारी से बचने के लिए देशभर में 21 दिनों के लिए मंगलवार रात 12 बजे से लॉकडाउन करने का ऐलान किया। राष्‍ट्र को अपने संबोधन में मोदी ने कहा कि इस खतरनाक वायरस के खिलाफ सबसे अहम हथियार सोशल डिस्टेंसिंग (सामाजिक दूरी) को पूरे  सख्त तरीके से लागू करने के लिए यह कदम उठाया गया है। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि इन 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान कौन-कौन सी सेवाएं जारी रहेंगी और क्या-क्‍या बंद हो जाएगा।

लौकडाउन के दौरान खुलेंगी ये दुकानें

स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं यानी हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर पर लॉकडाउन के दौरान पाबंदी नहीं है। वहीं, केमिस्ट की शॉप, मेडिकल इक्विपमेंट की दुकानें, लैब और राशन की दुकानें खुली रहेंगी। डॉक्टर के यहां भी जाने की पूरी इजाजत होगी। अस्पताल, डिस्पेंसरी, क्लीनिक, नर्सिंग होम खुले रहेंगे। पेट्रोल, सीएनजी, एलपीजी, पीएनजी जैसी सेवाएं चालू रहेंगी। जनवितरण प्रणाली वाली और आम राशन की दुकानें खुली रहेंगी, फल और सब्जी, डेयरी और दूध, मीट और मछली तथा चारे की दुकानें खुली रहेंगी। हो सकता है सरकार इसकी व्‍यवस्‍था खुद करे जैसा कि यूपी की योगी सरकार ने की है।

इमरजेंसी पर अपनी गाड़ी की इजाजत

प्राइवेट गाड़ियों के संचालन की इजाजत भी बेहद जरूरी हालात में होगी। लोगों को सिर्फ मेडिकल जरूरत के लिए, राशन, दवा, दूध और सब्जी खरीदने जाने के लिए इजाजत होगी। खाने, दवाइयों, मेडिकल इक्विपमेंट की ई-कॉमर्स के जरिए डिलिवरी जारी रहेगी। ऐंबुलेंस सेवा भी जारी रहेगी। मेडिकलकर्मियों, नर्स, पैरा-मेडिकल स्टाफ और हॉस्पिटल के सपॉर्ट स्टाफ को ट्रैवल की इजाजत होगी।

कहां जाने की नहीं होगी इजाजत

लॉकडाउन के दौरान सार्वजनिक स्थान जैसे मॉल, हॉल, जिम, स्पा, स्पोर्ट्स क्लब बंद रहेंगे। सभी रेस्तरां, दुकानें, रेहरी-पटरी की दुकानें बंद रहेंगी। शिक्षण संस्थान, ट्रेनिंग, रीसर्च, कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। साथ ही धार्मिक और पूजास्थल भी बंद रहेंगे। इसके अलावा किसी भी धार्मिक आयोजन की इजाजत नहीं होगी। इतना ही नहीं सोशल, पॉलिटिकल, स्पोर्ट्स, इंटरटेनमेंट, अकैडेमिक, कल्चरल कार्यक्रमों की इजाजत नहीं होगी। अंतिम संस्कार की स्थित में 20 से ज्यादा लोगों के शामिल होने की इजाजत नहीं होगी।

लॉकडाउन में खुलेंगे ये होटल

लॉकडाउन में फंसे पर्यटकों और दूसरे लोगों, मेडिकल और इमर्जेंसी स्टाफ, वायु और जल परिवहन के क्रू मेंबर के लिए होटेल, होमस्टे, लॉज और मोटल खुले रहेंगे। क्वॉरंटीन फसिलटी के तौर पर इस्तेमाल किए जा रहीं इमारतें भी खुली रहेंगी।

कोरोना की क्रोनोलॉजी

देश को संबोधित करते हुए पीएम ने बताया कि कैसे दुनिया में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं। उन्होंने कहा, ‘सोचिए, पहले एक लाख लोग संक्रमित होने में 67  दिन लगे और फिर इसे 2 लाख लोगों तक पहुंचने में सिर्फ 11 दिन लगे. जबकि दो लाख से 3 लाख लोगों में इस बीमारी को पहुंचने में सिर्फ 4  दिन लगे। इसलिए लॉकडाउन का पालन सभी लोग अपने और देशहित के लिए करें।

vojnetwork@gmail.com

No.1 Hindi News Portal

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button