लाइफ़स्टाइल

हद हो गई : टॉयलेट में होटल देख हैरान हुए कमिश्नर रावत !

कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत जहां भी निरीक्षण को पहुंचते हैं वहां कुछ ना कुछ ऐसा पकड़ लेते हैं जो सुर्खियां बनता है। ऐसा ही कुछ हुआ कुमाऊं कमिश्नरी के मुख्यालय नैनीताल में। यहां जब कमिश्नर रावत रोडवेज बस स्टेशन का निरीक्षण करने पहुंचे। घूमते-घूमते कमिश्नर जब वहां बने टॉयलेट में पहुंचे तो वहां का नजारा देख हैरान रह गए। क्योंकि वहां टॉयलेट की जगह होटल चल रहा था।

निरीक्षण के दौरान कमिश्नर रावत ने पाया कि बस अड्डे में विकास प्राधिकरण नैनीताल द्वारा शौचालय बनाया गया था और जिसके संचालन का काम बायोटैेक कम्पनी को दिया था। वहां बाहर से तो टॉयलेट की बिल्डिंग थी। लेकिन अंदर होटल का कमरा बन चुका था। और ये सब खेल चल रहा था रोडवेज के स्टेशन इंचार्ज पूरन सिंह मेहरा की मिली भगत से।

शौचालय को कमरे में बदला गया और टूरिस्ट को प्रतिदिन तीन हजार के हिसाब से किराए पर दिया जाने लगा। टॉयलेट में छह पुरुष यूरिनल और एक महिला टॉयलेट था। जिसे तोड़कर कमरे में तब्दील कर किराए पर चलाया जा रहा है। मामले की गम्भीरता को देखते हुए कमिश्नर रावत ने आरएम परिवहन और सचिव विकास प्राधिकरण का जवाब-तलब किया है और कमरे को तोड़कर दोबारा से टॉयलेट बनाने के निर्देश दिए।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button