देश

लोकतंत्र नहीं, वंशवाद की राजनीति खतरे में : सी.टी. रवि

पणजी, 28 मई (आईएएनएस)। कांग्रेस, राकांपा और समाजवादी पार्टी समेत विपक्षी दलों पर कटाक्ष करते हुए भाजपा के गोवा प्रभारी सी.टी. रवि ने शनिवार को कहा कि वंशवाद की राजनीति खतरे में है, न कि भारत का लोकतंत्र, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अच्छी तरह से संरक्षित किया गया है।

कांग्रेस, एनसीपी, नेशनल कांफ्रेंस, समाजवादी पार्टी, राजद और जद-एस की वंशवाद की राजनीति का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के कुछ नेता यहां तक कि राजनीतिक परिवारों से नहीं हैं या उनकी ऐसी कोई पृष्ठभूमि नहीं है।

रवि ने कहा, क्या कांग्रेस में लोकतंत्र है? नेहरू के बाद इंदिरा गांधी थीं, फिर राजीव गांधी, सोनिया गांधी, राहुल और प्रियंका।

उन्होंने एनसीपी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि उस पर शरद पवार और सुप्रिया सुले का शासन है।

रवि ने कहा कि यही पैटर्न समाजवादी पार्टी, राजद, नेशनल कांफ्रेंस और जद-एस पर लागू होता है।

उन्होंने कहा, ये लोग कहते हैं कि लोकतंत्र खतरे में है। लोकतंत्र खतरे में नहीं है, यह मोदी द्वारा संरक्षित है।

रवि ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी किसी राजनीतिक परिवार से नहीं हैं, बल्कि कड़ी मेहनत से अपने मुकाम तक पहुंचे हैं।

उन्होंने कहा, लोकतंत्र भाजपा के डीएनए में है। इस प्रकार, आम कार्यकर्ता सर्वोच्च पद पर पहुंच जाता है। चाय बेचने वाला प्रधानमंत्री बन सकता है। लोकतंत्र का मतलब वंशवाद नहीं है।

उन्होंने कहा कि वंशवाद की राजनीति के साथ-साथ भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण की नीति भी खतरे में है।

–आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button