Switch to:
देवस्थानम बोर्ड तुंरत भंग करे राज्य सरकार,नहीं तो आप भी पुरोहितो के साथ उतरकर करेगी प्रदर्शन: कर्नल कोठियाल

Share this story

aap

देहरादून: आप पार्टी के सीएम उम्मीदवार कर्नल अजय कोठियाल ने देवस्थानम बोर्ड मसले पर बयान जारी करते हुए कहा, देवस्थानम बोर्ड मसले पर सरकार पर पंडा समाज और तीर्थ पुरोहितों को शुरू से बरगलाया जा रहा है। उन्होंने कहा सीएम धामी ने देवस्थानम बोर्ड मामले में एक कमेटी के गठन करने की बात कही थी ,और 30 अक्टूबर तक तीर्थ पुरोहितों के हक में फैसला लेने की बात कही थी लेकिन तय समय निकल गया और सरकार अभी भी कमेटी कमेटी खेल कर मुद्दे को भटकाकर तीर्थ पुरोहितों को बरगलाने का काम कर रही है।

उन्होंने आगे कहा कि, जब बीते दिनों वो गंगोत्री धाम की यात्रा पर थे ,तो तीर्थ पुरोहितो से मुलाकात हुई थी। तीर्थ पुरोहित सरकार के आश्वासन से पूरी तरह आश्वस्त थे कि, उन्हें यरकार द्वारा किया गया वादा हर हाल में पूरा होगा । लेकिन 30 तारीख निकल जाने के बाद भी सरकार ने अपना वादा पूरा नहीं किया ,जो तीर्थ पुरोहितों और पंडा समाज के लोगों के साथ सीधा खिलवाड है।

कर्नल कोठियाल ने आगे कहा कि, तीर्थ पुरोहितों को पूरा यकीन हो गया है कि, कपाट बंद होने तक सरकार झूठा आश्वासन देती रहेगी और उसके बाद आचार संहिता लग जाएगी और देवस्थानम बोर्ड का मसला ठंडे बस्ते में चला जाएगा। उन्होंने कहा कि, आज पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत और कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत को तीर्थ पुरोहितों की नारजगी का सामना करना पडा। उन्हें दर्शन तक नहीं करने दिए गए। उन्होंने कहा कि, सरकार बोर्ड को भंग नहीं करके लोगों की आस्था के नाम पर भावनाओ के साथ खिलवाड कर रही है।

उन्होंने कहा,देवस्थानाम बोर्ड के जरिए भाजपा सरकार ने जिस तरह हिंदू धर्म की परंपराओं पर प्रहार करने का अपराध किया है, उसके खिलाफ हमारे चारों धामों के तीर्थ पुरोहित सालभर से भी ज्यादा वक्त से आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद सरकार अपने फैसले पर अड़ी हुई है।

उन्होंने आगे कहा कि, तीर्थ पुरोहित अब इतने ज्यादा व्यथित हो गए हैं कि, उन्हें पूजा अर्चना बंद करनी पड़ रही है। गंगोत्री और यमुनोत्री में देवस्थानाम बोर्ड के खिलाफ तीर्थ पुरोहितों ने आज पूजा-पाठ का काम बंद कर दिया है। इससे समझा जा सकता है कि, सरकार के इस दमनकारी निर्णय से वे कितने नाराज और आहत हैं।

उन्होंने कहा कि, चारधाम यात्रा काफी मशक्क्त के बाद शुरु हुई लेकिन अब सरकार की कारगुजारियों का असर ना सिर्फ पंडा पुरोहितों पर पड रहा है ,बल्कि इसका असर यात्रियों पर भी पड रहा है। पूजा पाठ बंद होने की वजह से यात्री भी पूजा पाठ से महरुम हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि, हमारी हजारों वर्षों से चली आ रही परंपराओं पर सरकार द्वारा की जा रही चोट को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आप पार्टी शुरु से ही तीर्थ पुरोहितों और पंडा समाज के साथ खडी है और सरकार से मांग करती है कि, तत्काल देवस्थानम बोर्ड को भंग किया जाए । नहीं तो तीर्थ पुरोहितों के साथ आप पार्टी भी आंदोलन करने सडकों पर उतरेगी।