Switch to:
नवम्बर माह से कांग्रेस करेगी प्रदेशभर मे विभिन्न कार्यक्रमों के जरिये भाजपा पर हमला

Share this story

cng

देहरादून: उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल के आह्रवान पर माह नवम्बर में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। उपरोक्त जानकारी देते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री संगठन एवं वरिष्ठ प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी ने बताया कि उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा नवम्बर माह में प्रदेशभर मे विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।

जोशी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक बार उत्तराखण्ड के प्रसिद्ध धाम केदारनाथ के दौरे पर आ रहे हैं। नरेन्द्र मोदी ने 2019 में अपने केदारनाथ दौरे के दौरान कई वादे किये थे, परन्तु भाजपा सरकार के विगत पांच वर्ष के कार्यकाल मे केदारनाथ धाम में सारे निर्माण कार्य अवरूद्ध हो गये हैं। कहा कि एक इंच भी काम नहीं हुआ है। इसके विरोध स्वरूप दिनांक पांच नवम्बर को प्रदेश भर मे प्रत्येक जनपद के 12.12 शिवालयों में जलाभिषेक एवं भजन कीर्तन आयोजित किये जायेंगे। वहीं 7 नवम्बर को पेट्रोल, डीजल की बढती कीमतों के विरोध में प्रदेशभर के सभी पेट्रोल पम्पों पर धरना.प्रदर्शन आयोजित किये गये हैं। नौ नवम्बर को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर प्रदेशभर में पद यात्राओं का आयोजन किया गया है। दस नवम्बर को हल्द्वानी के रामलीला मैदान में संकल्प विजय शंखनाद एवं पूर्व मंत्री यशपाल आर्य जी एवं पूर्व विधायक संजीव आर्य का स्वागत एवं अभिनन्दन कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा।

11 नवम्बर को प्रदेश कार्यालय में विभिन्न दलों के लोगों द्वारा कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की जायेगी। 14 नवम्बर को पण्डित जवाहर लाल नेहरू के जन्म दिवस के अवसर पर न्याया पंचायात स्तर पर बाल एवं युवा सम्मान कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा। 15 एवं 16 नवम्बर को ग्राम पंचायत स्तर पर वरिष्ठ नेताओं द्वारा रात्रि विश्राम कार्यक्रम होंगे। 19 नवम्बर को पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इन्दिरा गांधी के जन्म दिवस के अवसर पर प्रदेशभर में मातृशक्ति सम्मान समारोहों का आयोजन होगा तथा 20 नवम्बर से 24 नवम्बर तक तृतीय चरण की परिवर्तन यात्रा का आयोजन करने के साथ ही 26 नवंबर को प्रदेशभर में संविधान बचाओ दिवस आयोजित किया जायेगा।

उपरोक्त सभी कार्यक्रमों में पार्टी के वरिष्ठ नेतागण, सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, प्रदेश पदाधिकारी, अनुषांगिक संगठनों, विभागों एवं प्रकोष्ठों के पदाधिकारी सहित कार्यकर्ता प्रतिभाग करेगे।