AD
मनोरंजन

भारत में वीडियो स्ट्रीमिंग बाजार में तेजी से हो रही बढ़ोतरी, गेम-चेंजर साबित होगा 5-जी

नई दिल्ली, 2 अप्रैल (आईएएनएस)। भारतीय लोग अपने स्मार्टफोन में क्या देखना पसंद करते हैं? यह मनोरंजन से जुड़े कार्यक्रम और क्रिकेट ही हैं, जिसका क्रेज सबसे अधिक है। लाइव स्ट्रीमिंग हो या टीवी शो, स्मार्टफोन का उपयोग करने वाले लगभग 60 करोड़ से अधिक भारतीय व्यक्तिगत डिवाइस पर अपने पसंदीदा शो देख रहे हैं – देश में ओटीटी प्लेटफॉर्म को बहुत जरूरी बढ़ावा दे रहे हैं।

यूट्यूब से नेटफ्लिक्स तक और जी5 से एमएक्स प्लेयर तक, महामारी के दो वर्षों में ही कंटेंट की दैनिक खपत में वृद्धि हुई है।

भारतीय वर्तमान में अपने स्मार्टफोन पर करीब पांच घंटे बिता रहे हैं (ऐप इंटेलिजेंस फर्म ऐप एनी के अनुसार) और स्ट्रीमिंग ग्रामीण भारत के यूजर्स सहित लाखों लोगों के लिए एक अभिन्न अंग बन रही है।

काउंटरप्वांइट रिसर्च के रिसर्च डायरेक्टर तरुण पाठक के मुताबिक, ओटीटी खपत और स्मार्टफोन साथ-साथ चलते हैं।

पाठक ने आईएएनएस को बताया, जैसे-जैसे अधिक से अधिक लोग शक्तिशाली विशेषताओं, लंबी बैटरी लाइफ और बड़ी स्क्रीन वाले स्मार्टफोन खरीद रहे हैं, कंटेंट की खपत देश में बढ़ने के लिए तैयार है।

भारत में वीडियो स्ट्रीमिंग बाजार में विस्फोटक तरीके से बढ़ोतरी हुई है, जिसमें रिलायंस जियो और इसके अल्ट्रा-सस्ते डेटा पैक का भी खासा योगदान कहा जा सकता है। यही वजह है कि ग्रामीण भारत से 65 प्रतिशत से अधिक वीडियो खपत देखी गई है और यह तो तब है, जब लगभग 40 प्रतिशत हिस्से में ही सही प्रकार से इंटरनेट कनेक्टिविटी है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्ट्रीमिंग स्पेस में पारंपरिक दर्शकों का विस्तार, भारत में अंतर्राष्ट्रीय कंटेंट (जैसे कोरियाई या स्पेनिश) की लोकप्रियता और सबटाइटल और डब सामग्री के माध्यम से व्यापक दर्शकों को आकर्षित करने की क्षमता की वजह से स्थापित स्ट्रीमिंग सेवा प्रदाताओं ने भारतीय बाजार के लिए अपनी रणनीति को संशोधित किया है।

दिसंबर 2021 में, नेटफ्लिक्स ने अपनी मूल योजना के लिए भारत में अपनी स्ट्रीमिंग सेवाओं की कीमतों को 60 प्रतिशत घटाकर 199 रुपये प्रति माह कर दिया। दूसरी ओर, अमेजन प्राइम वीडियो और डिज्नी प्लस हॉटस्टार ने वास्तव में अपनी मासिक सदस्यता दरों (सब्सक्रिप्शन रेट्स) में मामूली वृद्धि की है।

वॉल्ट डिज्नी की स्ट्रीमिंग सेवा डिज्नी प्लस हॉटस्टार ने 1 जनवरी, 2022 को समाप्त पहली तिमाही में 26 लाख सशुल्क ग्राहक जोड़े, जिससे भारत में इसका कुल आधार 4.59 करोड़ हो गया।

नेटफ्लिक्स और अमेजन प्राइम वीडियो अपने देश-वार आंकड़े नहीं बताते हैं।

हाल ही में सीआईआई-बीसीजी की एक रिपोर्ट से पता चला है कि भारत में 2021 के अंत में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर 7-8 करोड़ सशुल्क ग्राहक थे, जो 2018 में 1.4 करोड़ से कुछ अधिक थे।

नेटफ्लिक्स के सह-संस्थापक और अध्यक्ष विल्मोट रीड हेस्टिंग्स ने इस साल की शुरुआत में कहा था कि भारत के बारे में जो अनोखी बात है वह यह है कि केबल प्रति परिवार लगभग 3 डॉलर प्रति माह है।

हेस्टिंग्स ने विश्लेषकों से कहा था, दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में मौलिक रूप से अलग मूल्य निर्धारण है, जो उपभोक्ता अपेक्षाओं को प्रभावित करता है। हर एक बड़े बाजार में अच्छी खबर है। जो चीज हमें निराश करती है वह यह है कि हम भारत में सफल क्यों नहीं रहे। लेकिन हम निश्चित रूप से वहां रूझान में आ रहे हैं।

नेटफ्लिक्स के सीओओ और मुख्य उत्पाद अधिकारी ग्रेगरी के. पीटर्स के अनुसार, वे भारतीय उपभोक्ताओं के टेस्ट के बारे में अधिक सीख रहे हैं।

भारत, जो वैश्विक स्तर पर तीसरा सबसे बड़ा 5जी स्मार्टफोन बाजार है, ने लगभग 3 करोड़ ऐसे स्मार्टफोन यूजर्स देखे, जो 2021 में 5जी के लिए तैयार थे, जबकि 2020 में इनकी संख्या सिर्फ 30 लाख थी।

देश में स्मार्टफोन का कुल संचयी शिपमेंट 2022-2026 तक 1.7 अरब तक पहुंचने की उम्मीद है, जिससे लगभग 250 अरब डॉलर का बाजार बन जाएगा, जिनमें से लगभग 84 करोड़ 5जी डिवाइस पांच साल की अवधि में बेचे जाने की उम्मीद है।

पाठक ने कहा, मुझे लगता है कि 5जी का भारत में ओटीटी खपत पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। सबसे बड़े बदलाव की उम्मीद की जा सकती है, वह है कंटेंट या सामग्री की गुणवत्ता, जिसे कहीं भी देखा जा सकता है, खासकर चलते-फिरते भी।

सामग्री निर्माता (कंटेंट क्रिएटर) कंटेंट बनाते समय नेटवर्क सीमाओं से परे सोचेंगे, विशेष रूप से बहुत कम विलंबता के साथ अल्ट्रा-हाई डेफिनिशन पर जोर होगा।

पाठक ने कहा, यह नवाचार को आगे बढ़ा सकता है और ओटीटी को एक बहुत ही प्रतिस्पर्धी स्थान बना सकता है, खासकर जब हर कोई यूजर्स के समय का अधिकतम हिस्सा प्राप्त करने का लक्ष्य बना रहा हो।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button