देश

बिहार की दिव्यांग सीमा अब उछलते स्कूल नहीं जाएगी, बढ़े मदद के हाथ

जमुई, 26 मई (आईएएनएस)। बिहार के जमुई जिले की 10 वर्षीय दिव्यांग स्कूली छात्रा सीमा कुमारी अब पीठ पर बैग लिए उछलते, कूदते स्कूल नहीं जाएगी। अब इसके कृत्रिम पैर लगाने की तैयारी की जा रही है, जिससे यह अपने पैरों पर चलकर स्कूल जा सके। सीमा की मदद के लिए अब बिहार सरकार के मंत्री और फिल्म अभिनेता भी सामने आए हैं।

एक पैर से सीमा का स्कूल जाते वीडियो वायरल होने के बाद इसकी मदद के लिए लोग सामने आने लगे। दो साल पहले खैरा प्रखंड के फतेहपुर गांव की रहने वाली वर्ग चार की छात्रा का ट्रैक्टर के पहिए के नीचे आ जाने से एक पैर टूट गया था। इलाज के दौरान डॉक्टरों ने सुझाव दिया कि अगर उसका पैर नहीं काटा गया तो उसकी मौत हो सकती है। उसके माता-पिता इस पर सहमत हो गए और डॉक्टरों ने उसका बायां पैर काट दिया था।

अपना एक पैर गंवाने के बावजूद सीमा ने उम्मीद नहीं खोई। वह स्कूल जाती रही। वह अपने घर से स्कूल तक 500 मीटर की दूरी तय करने के लिए लंबी कूद तकनीक का उपयोग करती है और वह भी पीठ पर स्कूल बैग के साथ।

जिला प्रशासन की ओर से बुधवार को उसे ट्राइ साइकिल दिया गया और कृत्रिम पैर लगाने की तैयारी की जा रही है। जिलाधिकारी खुद इसकी मॉनीटरिंग कर रहे हैं।

इसके अलावा अभिनेता सोनू सूद ने भी जमुई की सीमा को मदद करने का भरोसा दिया है।

जमुई के जिलाधिकारी अवनीश कुमार सिंह कहते हैं कि मुख्यमंत्री आवास योजना से मकान दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि ट्राई साइकिल उपलब्ध करा दी गई है तथा कृत्रिम पैर भी लगाने की प्रक्रिया प्रारंभ है।

इधर, फिल्म अभिनेता सोनू सूद भी वीडियो वायरल होने के बाद अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा, अब यह अपने एक नहीं दोनों पैरों पर कूद कर स्कूल जाएगी। टिकट भेज रहा हूं, चलिए दोनो पैरों पर चलने का समय आ गया।

इसके अलावा दूसरे लोग भी सीमा की मदद के लिए आगे आ रहे हैं। बिहार सरकार के कई मंत्री भी सीमा की मदद करने को तैयार हैं। सीमा पढ़कर आगे शिक्षक बनना चाहती है।

–आईएएनएस

एमएनपी/एएनएम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button