AD
देश

दिल्ली में शुरू किए जाएंगे 100 और मोहल्ला क्लिनिक, वर्तमान में हैं 519 क्लीनिक

नई दिल्ली, 6 जून (आईएएनएस)। दिल्ली में 100 और नए मोहल्ला क्लिनिक शुरू किए जांएगे। इन मोहल्ला क्लीनिकों का निर्माण कार्य अपने अंतिम दौर में चल रहा है। इस बाबत सोमवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने स्वास्थ्य विभाग व पीडब्ल्यूडी के उच्चाधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि इन क्लीनिकों की शुरूआत जल्द से जल्द की जाए, जिससे कि आम जनता इसका लाभ उठा सकें।

गौरतलब है कि दिल्ली में वर्तमान में 519 मोहल्ला क्लीनिक हैं। जहां लोगों को 212 प्रकार के टेस्ट व सभी बेसिक दवाइयां, जिसमें 125 प्रकार की दवाइयां शामिल है, सहित सभी प्रकार की प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं निशुल्क प्रदान की जाती है। इन मोहल्ला क्लीनिकों में प्रति दिन 60 हजार से अधिक लोग अपना उपचार करवाते हैं।

साथ ही, दिल्ली में सभी मोहल्ला क्लीनिकों को डिजिटलाईज्ड करने का काम भी तेजी से चल रहा है और बहुत से मोहल्ला क्लीनिक पूरी तरह से डिजिटलाईज्ड हो चुके है। यहां कंम्प्यूटर टेबलेट के माध्यम से मरीजों व उसकी बीमारी से जुडी जानकारियां एकत्र की जाती हैं।

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक किसी भी बीमारी का पता लगाने का पहला पॉइंट है। इनके डिजिटलाईज्ड होने के यहां से आने वाले डेटा का प्रयोग दिल्ली में किसी भी स्थान पर किसी बीमारी के पनपने से पहले ही उसका निदान करने के लिए किया जाएगा। साथ ही डॉक्टर को एक क्लिक के माध्यम से ही मरीजों की सारी मेडिकल हिस्ट्री का पता चल जाएगा। इसकी मदद से डॉक्टर मरीज को और बेहतर उपचार दे पाएंगे। स्वास्थ्य संबंधित नीतियों के निर्माण में भी ये डेटा महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि मुख्यमंत्री दिल्ली का मोहल्ला क्लीनिक मॉडल देश ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व में प्राथमिक स्वास्थ्य प्रणाली का शानदार व अनूठा मॉडल है। उन्होंने कहा कि हर दिल्लीवासियों तक प्राथमिक स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाओं की आसानी से पहुंच हो, इसलिए हम जल्द ही 100 नए मोहल्ला क्लीनिक शुरू करने जा रहे है। इन क्लीनिकों का निर्माण कार्य अपने अंतिम दौर में चल रहा है औ? जल्द ही ये आम जनता के लिए पूरी तरह से उपलब्ध हो जाएंगे।

–आईएएनएस

जीसीबी/एएनएम

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button