देश

गीडा में विदेशी निवेश की संभावनाओं पर चर्चा की साउथ एशिया यूके के ट्रेड कमिश्नर ने

गोरखपुर, 23 मई(आईएएनएस)। यूनाइटेड किंगडम (यूके) के साउथ एशिया में ट्रेड कमिश्नर एलन जेमेल ने कहा है कि गोरखपुर में विदेशी निवेश की काफी संभावनाएं हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां विकास का शानदार माहौल तैयार किया है। उनका प्रयास होगा कि वह यहां दिख रहे उद्योगपरक सकारात्मक माहौल और यहां से मिली जानकारी यूनाइटेड किंगडम के उद्यमियों तक पहुंचाकर निवेश और विकास में सहभागी बनें। उन्होंने यहां फूड प्रोसेसिंग सेक्टर में मिलजुकलकर काम करने की संभावना भी जताई।

यूके के राजनयिक एलन जेमेल सोमवार को गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) के दौरे पर आए थे। उन्होंने यहां गीडा के सीईओ पवन अग्रवाल और प्रमुख उद्यमियों के साथ बैठक की। औद्योगिक विकास और निवेश पर प्रेजेंटेशन देखा और इसकी सराहना की। यूके से किन सेक्टर में निवेश हो सकता है, इस पर चर्चा की। इसके बाद उन्होंने दो फैक्ट्रियों का भ्रमण किया। दोनों फैक्ट्रियों का मैकेनिज्म देखकर वह काफी प्रभावित हुए।

गोरखपुर में औद्योगिक विकास और निवेश की संभावनाओं को तलाशने आए साउथ एशिया में यूके के ट्रेड कमिश्नर का गीडा कार्यालय में सीईओ पवन अग्रवाल व प्रमुख उद्यमियों ने स्वागत किया। सीईओ ने उन्हें बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सतत प्रयासों से आज गीडा उद्यमियों के पसंदीदा स्थानों में से एक है। कई बड़ी औद्योगिक इकाइयां यहां संचालित हैं, कई के प्रस्ताव स्वीकृत होकर प्रक्रियाधीन हैं और कई बड़ी कम्पनियों ने यहां निवेश करने का प्रस्ताव दिया है। यहां सरकार आईटी पार्क, प्लास्टिक पार्क और गारमेंट पार्क की स्थापना कर रही है। उद्योगों के लिए सीएम के मार्गदर्शन में पर्याप्त लैंडबैंक तैयार किया गया है। साथ ही यूपी की उद्योग नीति इनवेस्टर फ्रेंडली है। इसके साथ ही उन्होंने एलन को गोरखपुर में पूर्ण और पाइपलाइन वाली विकास परियोजनाओं के बारे में भी बताया। इस अवसर पर यूके के ट्रेड कमिश्नर ने उद्यमियों से संवाद करते हुए उन्हें मिल रही सुविधाओं और सहूलियतों की जानकारी ली। उद्यमियों ने उन्हें बताया कि योगी सरकार के प्रोत्साहन से औद्योगिकीकरण की गति तेज हुई है। यूके से विदेशी निवेश की चर्चा पर उद्यमियों की तरफ से बताया गया कि यहां फूड प्रोसेसिंग के सेक्टर में काफी अच्छा काम हो सकता है।

गीडा कार्यालय में बैठक के बाद यूके के ट्रेड कमिश्नर फॉर साउथ एशिया एलन जेमेल ने गीडा की दो फैक्ट्रियों एबीआर पेट्रो और इंडिया ग्लाइकाल लिमिटेड (आईजीएल) का भ्रमण किया। एबीआर पेट्रो में बड़े पैमाने पर प्लास्टिक प्रोडक्ट का उत्पादन होता है, जबकि आईजीएल ने अपनी डिस्टलरी में ग्रेन बेस्ड एथेनॉल प्लांट लगाया है। दोनों फैक्ट्रियों की कार्यपद्धति और प्रबंधन देखकर वह काफी प्रभावित हुए। उनके दौरे के दौरान चैंबर ऑफ इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष विष्णु प्रसाद अजितसरिया, पूर्व अध्यक्ष एसके अग्रवाल, प्रवीण मोदी, आजम खान आदि कई उद्यमी मौजूद रहे।

–आईएएनएस

विकेटी/एएनएम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button