लाइफ़स्टाइल

गर्मियों में कूल रहिए, वाडीलाल ने पेश किए केसर रसमलाई, फालूदा के फ्लेवर

मुंबई, 6 मार्च (आईएएनएस)। गर्मी का पारा चढ़ता जा रहा है, इसी को देखते हुए वाडीलाल एंटरप्राइजेज लिमिटेड ने अपने गूर्मे नेचुरल आइसक्रीम रेंज में दो नए रोमांचक स्वाद जोड़े हैं। स्वादिष्टता को आगे बढ़ाते हुए, वाडीलाल ने केसर रसमलाई और फालूदा के फ्लेवर पेश किए हैं, जो इसके प्रमुख फ्लेवर गुलाब जामुन के सबसे करीब हैं।

लोगों की पसंद वाडीब्रो एक बार फिर से वापसी कर रहा है और लोगों को लुभा रहा है।

वाडीलाल एंटरप्राइजेज लिमिटेड में ब्रांडिंग और मार्केटिंग की अध्यक्ष, आकांक्षा गांधी ने कहा, "वाडीब्रो कूल है, जिंदादिल है। आप उसके बगल में बैठना चाहेंगे और गूर्मे नेचुरल आईसक्रीम को बस चट कर जाना चाहेंगे। वह पड़ोस के लड़के जैसा है। वह तुम्हारा भाई है। वह हमारा प्यारा वाडी ब्रो है।"

इसके बारे में यू ट्यूब के लिंक पर जाकर जानें। केसर रसमलाई : https://www.youtube.com/watch?v=4QoNTAHKTLs फालूदा : https://www.youtube.com/watch?v=vLnrCZF3OXM

मिठाई भारतीय संस्कृति का एक अभिन्न हिस्सा है और हर भारतीय अपनी पसंदीदा मिठाई के बिना अधूरा है। वाडीलाल ने बिना किसी आर्टिफिशियल कलर और स्वाद के भारतीय मिठाइयों से प्रीमियम आइसक्रीम विकसित की है। इस साल लॉन्च किए गए दो नए फ्लेवर के अलावा, गूर्मे नेचुरल टब रेंज में गुलाब जामुन, महाबलेश्वर स्ट्रॉबेरी, केसर पिस्ता और क्लासिक मलाई फ्लेवर भी शामिल है।

ब्रांड के नए डिजिटल कमर्शियल वीडियो नाटकीय रूप से अलग एहसास कराते हैं। केसर रसमलाई वेरिएंट का वीडियो क्लासिक 1980 के दशक के बॉलीवुड प्रोडक्शन को ब्राइट कलर्स के साथ दिखाता है, फालूदा के वीडियो में वाडीब्रो और विभिन्न स्वादों के बीच एक मुकाबला है।

वीडियो में दर्शक मिठाई के लिए तरसते देखे जा सकते हैं, जो तभी तृप्त होता है जब वाडीलाल गूर्मे नेचुरल आइसक्रीम उसे स्वादिष्ट स्कूप परोसता है। वाडीब्रो द्वारा जो इंडलजेंस दिखाया गया है वो निश्चित रूप से प्रत्येक मिठाई-प्रेमी को स्क्रीन पर कूदने और गूर्मे नेचुरल आइसक्रीम पाने की इच्छा है।

दोनों वीडियो लाड़ टपकाते हैं और दो नए स्वादों के लिए मंच तैयार करते हैं, जिसे लोग खा सकते हैं और गर्मी से राहत पा सकते हैं।

हालाकि, यह लोगों को आश्चर्यचकित करता है कि क्या यह केवल शुरुआत है? क्या वाडीलाल के जरिए इस बार की गर्मी बहुत कूल होने वाली है? यह जानने के लिए हमें इंतजार करना होगा।

–आईएएनएस

एसकेके/एसकेपी

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button