AD
मनोरंजन

एक अच्छा जीवनसाथी स्वस्थ मानसिक स्वास्थ्य की बन सकता है कुंजी

नयी दिल्ली, 7 अप्रैल (आईएएनएस)। मानसिक स्वास्थ्य और शारीरिक स्वास्थ्य के संबंध को लेकर अब तक कई शोध किये गये हैं, जिनसे यह पता चलता है कि किसी भी मनुष्य के सर्वागीण विकास में उसके मानसिक स्वास्थ्य का क्या महत्व है।

मानसिक रूप से स्वस्थ व्यक्ति एक स्वस्थ समाज की रचना करता है, जहां संघर्ष के अवसर कम आते हैं। मानसिक रूप से स्वस्थ व्यक्ति आत्मविश्वास से लबरेज होते हैं और उनमें जिंदगी के तनाव को सहने की क्षमता विकसित हो जाती है।

मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करने के कई कारक होते हैं। किसी व्यक्ति का करियर, शारीरिक स्वास्थ्य, कामकाजी माहौल, परिवार का माहौल, आस-पास का माहौल और उसका जीवनसाथी मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं।

हमारे समाज में हर पहलू के बारे में विस्तृत चर्चा होती है लेकिन जहां बात निजी जिंदगी की आती है तो सारी चर्चायें हवा हो जाती हैं। यह वह व्यक्तिगत कोना है, जिसके बारे में अधिकतर लोग चर्चा करने से कतराते हैं और इसी कारण अपने मानसिक स्वास्थ्य पर इसके प्रभाव को भी नजरअंदाज कर देते हैं।

डेटिंग ऐप क्वै कक्वै क ने इसी को लेकर एक सर्वेक्षण किया।

सर्वेक्षण से यह पता चला कि एक अच्छा पार्टनर न सिर्फ आपको खुद को अच्छी तरह समझने का मौका देता है बल्कि वह अपनी दयालुता और बुद्धिमता से आपकी जिंदगी को रोशन भी करता है।

जब आप अपनी जिंदगी में किसी पार्टनर के साथ सहज होते हैं तो आप उनसे बिना कहे भी अपनी भावनायें बता पाते हैं।

लेकिन, अगर यही पार्टनर अगर आपके लिये सही न हुआ और आप उससे बेहतर तरीके से अपनी भावनाओं को नहीं व्यक्त कर पा रहे तो यह आपकी मानसिक शांति का दुश्मन साबित हो सकता है। अगर आपको पता नहीं कि आपके पार्टनर के साथ आपका रिश्ता किस मोड़ पर है तो हर छोटी बात भी आपका मानसिक सुकून छीन सकती है।

टीयर 2 शहरों में रहने से 28 से 30 साल के बीच के पुरूषों में से करीब 40 प्रतिशत अपने मौजूदा पार्टनर से संतुष्ट हैं और महिलाओं के मामले में यह आंकड़ा 47 प्रतिशत है।

अगर आपका पार्टनर आपको समझता है तो वह आपके जीवन में मानसिक शांति लेकर आता है और अगर वह नहीं समझता तो वह जलजला साबित हो सकता है।

–आईएएनएस

एकेएस/एएनएम

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button