देश

आगामी गुजरात चुनाव में कांग्रेस को कड़ी टक्कर- सर्वे

नई दिल्ली, 3 जून (आईएएनएस)। भाजपा 1995 में पहली बार सत्ता में आने के बाद से गुजरात में कभी भी विधानसभा चुनाव नहीं हारी है और इसी तरह, कांग्रेस ने एक बड़े और वफादार वोट बैंक के बावजूद राज्य को कभी नहीं जीता है।

जनता की राय जानने के लिए आईएएनएस की ओर से सीवोटर द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार, राज्य में हाल के घटनाक्रमों ने अधिकांश उत्तरदाताओं को गुजरात में कांग्रेस की संभावनाओं के लिए एक धूमिल परि²श्य पेश करने के लिए प्रेरित किया है, जहां साल के आखिर में चुनाव होने हैं।

सर्वेक्षण के उत्तरदाताओं की नजर में आंतरिक लड़ाई और निकास ने पार्टी को नुकसान पहुंचाया है। सबसे हालिया घटनाक्रम युवा और तेजतर्रार पाटीदार नेता हार्दिक पटेल का कांग्रेस से बाहर होना और उसके तुरंत बाद भाजपा में शामिल होना है।

सर्वे के नतीजों के मुताबिक, 46 फीसदी लोगों ने कहा कि हार्दिक पटेल के आने से बीजेपी को फायदा होगा। एनडीए समर्थकों में, 56.5 प्रतिशत ऐसा ही महसूस करते हैं, जबकि 39 प्रतिशत विपक्षी समर्थक इस तर्क से सहमत हैं।

गौरतलब है कि लगभग 40 फीसदी विपक्षी समर्थकों को लगता है कि हार्दिक पटेल के भाजपा में शामिल होने से पार्टी को नुकसान होगा।

उत्तर तब अधिक निश्चित थे जब उत्तरदाताओं से पूछा गया कि क्या कांग्रेस ने आगामी विधानसभा चुनावों में राज्य जीतने की सभी संभावनाएं खो दी हैं। लगभग 51 प्रतिशत के कुल बहुमत ने महसूस किया कि कांग्रेस ने सभी मौके खो दिए हैं, जबकि 31.5 प्रतिशत ने महसूस किया कि कांग्रेस के लिए अभी भी कुछ मौका है।

अनुमानत:, 41.5 प्रतिशत विपक्षी समर्थकों की राय थी कि कांग्रेस के पास अभी भी मौका है।

2017 के विधानसभा चुनावों में, कांग्रेस ने भाजपा को हैरान दिया था और 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा में इसे 100 से नीचे तक सीमित कर दिया था। इसने 40 फीसदी वोट शेयर भी हासिल किया। लेकिन बीजेपी ने सत्ता बरकरार रखी, क्योंकि उसे 50 फीसदी वोट मिले थे।

–आईएएनएस

एचके/एएनएम

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button