Switch to:
मनी लॉन्ड्रिंग केस में अनिल देशमुख को कोर्ट ने 15 नवंबर तक ईडी की हिरासत में भेजा

Share this story

anil

मुंबई: महाराष्ट्र के बहुचर्चित मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख को एक बार फिर से झटका लगा है। पूर्व गृहमंत्री देशमुख की कस्टडी पीएमएलए कोर्ट ने फिर से बढ़ा दी है। अब वे 15 नवंबर तक ईडी की हिरासत में रहेंगे। 

इससे पहले ईडी के सामने पेश हुए अनिल देशमुख को गिरफ्तार कर लिया गया था, जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें ईडी की हिरासत में भेज दिया था। देखमुख के खिलाफ ईडी व सीबीआई जैसी केंद्रीय एजेंसियां जांच कर रही हैं। 

विदित हो कि अनिल देशमुख पर आरोप है कि गृहमंत्री रहते हुए उन्होंने करीब 100 करोड़ रुपये की वूसली की थी। उन पर मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने सीएम उद्धव ठाकरे को एक पत्र लिखकर ये सभी आरोप लगाए थे। इसके बाद से ही यह मामला सामने आया और केंद्रीय एजेंसी सीबीआई ने इस मामले में मामला दर्ज किया था।

देशमुख ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों का खंडन किया है। पिछले दिनों देखमुख की ओर से इस मामले में वीडियो जारी किया गया था, इसमें देखमुख ने कहा था कि उनके ऊपर लगाए गए सभी आरोप निराधार हैं। साथ ही उन्होंने परमबीर सिंह के बारे में भी कई सवाल दागे थे। दरअसल, मामला खुलने के बाद परमबीर सिंह फरार है। देखमुख ने कहा था कि वह विदेश भाग गया है।